Virat Kohli left the captaincy, but because of him the career of these players was made | Virat Kohli ने छोड़ी कप्तानी, लेकिन उनकी वजह से इन प्लेयर्स का बना करियर


नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पॉपुलर कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) अपने खेल में माहिर हैं इस बात में कोई संदेह नहीं है. तभी तो उन्हें दुनिया के बेस्ट बल्लेबाजों में शुमार किया जाता है. लेकिन गुरुवार को उन्होंने वर्ल्ड कप के ठीक बाद T20 टीम की कप्तान का पद छोड़ने का ऐलान कर दिया है. हालांकि वह टेस्ट और वनडे क्रिकेट में भारत का नेतृत्व करना जारी रखेंगे.

2017 में कप्तान बने कोहली

कोहली को 2017 में सीमित ओवरों की क्रिकेट में फुल टाइम कप्तान बनाया गया था. उनकी कप्तानी में टी20 फॉर्मेट में टीम इंडिया का प्रदर्शन शानदार रहा है. विराट कोहली ने अबतक 45‌ टी20 मैचों में भारतीय टीम के कप्तान रहे हैं. इस दौरान टीम को 25 मैचों में जीत और 14 मैचों में हार का सामना करना पड़ा. वहीं दो मुकाबले टाई पर खत्म हुए और इतने ही बेनतीजा रहे. विराट की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 65.11 रहा है. जबकि रोहित शर्मा ने अबतक 19 टी20 मैचों में भारत की कप्तानी की है. जिसमें से भारत को 15 मैचों में जीत और महज 4 में हार का सामना करना पड़ा है. रोहित की कप्तानी में जीत का प्रतिशत 78.94 रहा है.

इन T20 सीरीज में दिलाई जीत

कोहली की अगुआई में भारतीय T20 टीम को साल 2020 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से, साल 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भी 2-1 से भारत जीता था. वहीं साल 2020 में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत ने 5-0 से क्लीन स्वीप किया था. साल 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ 2-1 से जीतकर भी कोहली ने अपना सिक्का जमाया था. 2019 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 3-0 से सीरीज जीतकर कोहली की टीम ने पूरे स्टेडियम को इंडिया-इंडिया के नारों का गुणगान करने पर मजबूर कर दिया था. ऐसी ही एक सीरीज श्रीलंका के खिलाफ साल 2017 में हुई थी जहां 1-0 से भारत ने जीत हासिल की थी.

कोहली ने चमकाया इन खिलाड़ियों का करियर

कोहली ने अपनी कप्तानी के समय में कई युवा खिलाड़ियों के करियर बनाए हैं. अपनी अगुआई के वक्त कोहली ने युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी और शार्दुल ठाकुर जैसे खिलाड़ियों को टीम में लगातार मौके दिए. आज अगर पूरी दुनिया में इन खिलाड़ियों का नाम है तो इसके पीछे कोहली एक बड़ी वजह हैं.

2019 में जड़ा अंतिम इंटरनेशनल शतक

विराट कोहली को आधुनिक समय के महान बल्लेबाज के रूप में माना जाता है. कोहली ने अपना अंतिम इंटरनेशनल शतक नवंबर 2019 में जड़ा था. भारतीय कप्तान ने 96 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें रन मशीन ने 27 शतक जड़े हैं. 50 ओवर के प्रारूप में कोहली के नाम भारत के लिए 43 शतक हैं. 32 वर्षीय इस क्रिकेटर की इंग्लैंड के खिलाफ एक महत्वपूर्ण सीरीज थी. हालांकि, टीम इंडिया के कप्तान चार टेस्ट मैचों में एक भी तिहरे अंकों का स्कोर दर्ज करने में विफल रहे.

धोनी ने ही बचाया था कोहली का करियर

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने कोहली को लेकर हाल ही में बड़ा खुलासा किया. उन्होंने बताया कि 2012 में ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर खराब प्रदर्शन की वजह से चयनकर्ता विराट कोहली को ड्राप करना चाहते थे. इस दौरान विराट ने सिर्फ 10.75 की औसत से रन बनाए थे. हालांकि इसके बाद भी धोनी ने कोहली पर जताया और उन्हें तीसरे टेस्ट में भी मौका दिया. इस टेस्ट मैच में कोहली ने पहली पारी में 44 रन और दूसरी पारी में 75 रन की पारी खेली. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में चयनकर्ता विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा को टीम में शामिल करना चाहते थे. लेकिन इसके बाद धोनी के कहने की वजह से विराट कोहली को टीम में शामिल किया गया था. धोनी के इस फैसले के बाद विराट ने कभी भी पलट कर नहीं देखा और वो इस समय दुनिया के सबसे अच्छे बल्लेबाज हैं. खुद कोहली भी कई बार मान चुके है कि धोनी की वजह से उन्हें उनके करियर की शुरुआत में ड्राप नहीं किया गया था.

LIVE TV





Source link

Leave a Comment