Virat Kohli and ravi shastri breach rules by book launch in UK cause COVID and 5th test was postponed IND VS ENG | IND VS ENG: विराट-शास्त्री की गलती के चक्कर में टूट गया टीम इंडिया का सपना? ट्विटर पर भड़के लोग


नई दिल्ली: टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का कोई नतीजा नहीं निकल सका. 2-1 से सीरीज में आगे चल रही भारतीय टीम के खेमे में कोरोना वायरस का कहर जमकर टूटा, जिसके बाद आखिरी मुकाबला रद्द करना पड़ा. हालांकि अब भी उम्मीदें हैं कि ये दोबारा खेला जाएगा. इसी बीच कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसके बाद उन पर कई सवाल खड़े हो गए हैं.

कोहली और शास्त्री की लापरवाही?

दरअसल मुख्य कोच रवि शास्त्री और विराट कोहली टेस्ट सीरीज के दौरान एक पुस्तक लॉन्च कार्यक्रम में शामिल हुए थे. जबकि बीसीसीआई सचिव जय शाह ने खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के सदस्यों से कहा था कि वे कोविड ​​​​-19 के खतरे के कारण किसी भी सार्वजनिक समारोह में शामिल न हों. जो खिलाड़ी इवेंट में नजर आए, उनमें कोहली के अलावा अजिंक्‍य रहाणे, चेतेश्‍वर पुजारा, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर, सूर्यकुमार यादव समेत सपोर्ट स्‍टाफ के सदस्‍य भी मौजूद थे.

 

बता दें कि टीम इंडिया के सहायक फिजियो योगेश परमार गुरुवार को कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. उनसे पहले मुख्य कोच रवि शास्त्री, गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर भी पॉजिटिव आए थे.

 

फूटा लोगों का गुस्सा

वहीं अब 5वां टेस्ट रद्द होने के बाद इंग्लिश मीडिया भारतीय कोच और खिलाड़ियों की आलोचना कर रहा है. डेली मेल ने अपनी रिपोर्ट में लिखा, ‘यह खेल के लिए एक संकीर्ण पलायन है और स्पष्ट रूप से, भारत के कोच और खिलाड़ी अपने बायो बबल के बाहर लंदन के एक होटल में एक पुस्तक लॉन्च में शामिल होने के लिए गए जो गैर-जिम्मेदार था ओवल में चौथे टेस्ट से दो दिन पहले स्पोर्ट्समेल द्वारा इस बात का खुलासा किया गया था’. ट्विटर पर यूजर्स भी इसको लेकर बिल्कुल खुश नहीं हैं और अपना गुस्सा निकाल रहे हैं.

 

सीरीज पर बीसीसीआई का अपडेट

बीसीसीआई ने बयान जारी कर कहा, ‘भारतीय क्रिकेट बोर्ड और ईसीबी के बीच मजबूत संबंध को देखते हुए बीसीसीआई इंग्लिश क्रिकेट बोर्ड को रद्द हुए टेस्ट मैच को पुनर्निर्धारित करने का प्रस्ताव देता है. दोनों बोर्ड मिलकर इस टेस्ट मैच को दोबारा कराने के लिए किसी उपयुक्त विंडो की तलाश करें’.

बीसीसीआई ने बयान में कहा, ‘दोनों बोर्ड ने मिलकर कई राउंड की चर्चा की जिससे टेस्ट मैच कराने का रास्ता निकले. हालांकि, भारतीय दल में कोरोना के मामले के कारण इस मैच को रद्द करने का फैसला लेना पड़ा. बीसीसीआई ने हमेशा से खिलाड़ियों की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी है और इससे समझौता नहीं किया है। बोर्ड ईसीबी को इस कठिन स्थिति को समझने और उनके सहयोग के लिए उन्हें धन्यवाद देता है’.





Source link

Leave a Comment