Unmukt Chand announce his retirement from indian cricket, captain of 2012 u-19 world cup team


नई दिल्ली: भारत को अपनी कप्तानी में साल 2012 का अंडर 19 वर्ल्ड कप (World Cup) जिताने वाले कप्तान उन्मुक्त चंद (Unmukt Chand) का क्रिकेट करियर बहुत तेजी से गुमनामी के अंधेरे में खो गया. अब उन्होंने 28 साल की उम्र में भारतीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है.

28 साल की उम्र में उनमुक्त ने लिया संन्यास 

साल 2012 में अंडर-19 भारतीय टीम क्रिकेट में उन्मुक्त चंद (Unmukt Chand) की कप्तानी में वर्ल्ड कप जीता था. इस जीत में बहुत बड़ा हाथ कप्तान का भी था. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फाइनल मुकाबले में शतक ठोक कर भारत को वर्ल्ड चैंपियन बनाया था. उसके बाद ये खिलाड़ी रातों-रात स्टार बन गया. लेकिन इसके बाद उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा. घरेलू क्रिकेट में भी वो कुछ कमाल नहीं पाए और क्रिकेट के मैदान से बाहर ही दिखाई देने लगे. एक वक्त ऐसा था कि उनमुक्त चंद को भारतीय क्रिकेट के भविष्य माना जाता था, लेकिन ये खिलाड़ी कुछ करने में नाकाम रहा. 

अब उन्मुक्त चंद (Unmukt Chand) भारतीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है. उनमुक्त चंद ने ट्विटर पर ये जानकारी फैंस को साझा की है. अपनी यादों का वीडियो भी शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है कि अब उनके जीवन की नई यात्रा शुरू हो रही है. बता दें कि ऐसी खबरें है कि उन्‍मुक्‍त चंद अमेरिका में अपना क्रिकेट करियर बनाने जा रहे हैं. 

 

उन्‍मुक्‍त चंद का रिकॉर्ड 

उन्‍मुक्‍त चंद ने 67 फर्स्‍ट क्‍लास मैचों में 3379 रन बनाए हैं, जबकि 120 लिस्‍ट ए मैचों में 4505 रन जोड़े हैं. उन्‍मुक्‍त चंद ने 77 टी20 में 1564 रन बनाए हैं. उन्‍मुक्‍त चंद अपनी कप्तानी में भारत को साल 2012 का अंडर 19 वर्ल्ड कप जिता चुके हैं. 

अमेरिका में अब खेल सकते हैं क्रिकेट

बीसीसीआई के नियमों के मुताबिक ऐसा कोई भी भारतीय क्रिकेटर जो BCCI के कॉन्ट्रैक्ट का हिस्सा हो या नहीं हो, संन्‍यास की घोषणा करने से पहले देश के बाहर किसी भी प्रकार की फ्रेंचाइजी क्रिकेट नहीं खेल सकता. बता दें कि इससे पहले युवराज सिंह को कनाडा में टी-20 लीग खेलने के लिए संन्‍यास लेना पड़ा था. अब उन्मुक्त चंद (Unmukt Chand) ने अपने संन्यास की घोषणा कर दी है तो ऐसे में वो अमेरिका में क्रिकेट खेल सकते हैं.

 





Source link

Leave a Comment