Tokyo Paralympics: Bronze winning Vinod’s result held, some countries objected to his classification | ब्रॉन्ज जीतने वाले विनोद कुमार का रिजल्ट रोका, इस वजह से हुआ विवाद


टोक्यो: टोक्यो पैरालिंपिक्स (Tokyo Paralympics) में रविवार का दिन भारत के लिए खास रहा. रविवार को भारत ने 2 रजत (Silver) और 1 कांस्य (Bronze) समेत कुल 3 मेडल अपने नाम किए. हालांकि, कांस्य पदक जीतने वाले विनोद कुमार (Vinod Kumar) के रिजल्ट को होल्ड पर रखा गया है. बता दें कि कुछ देशों ने उनके क्लासिफिकेशन कैटेगरी को लेकर आपत्ति जताई थी, जिसकी जांच अभी जारी है.

F52 कैटेगरी के सहभागी थे विनोद  

बीएसएफ के 41 साल के जवान ने 19.91 मीटर दूर अपना चक्का फेंक (Discuss Throw) कर तीसरा स्थान हासिल किया. वह पोलैंड के पियोट्र कोसेविज (20.02 मीटर) और क्रोएशिया के वेलिमीर सैंडोर (19.98 मीटर) से पीछे रहे, जिन्होंने क्रमश: स्वर्ण और रजत पदक जीते हैं. विनोद ने F52 कैटेगरी में पैरालिंपिक में हिस्सा लिया था. इस कैटेगरी में उन एथलीट्स को शामिल किया जाता है, जिनकी मांसपेशियों में कमजोरी होती है. अंग की कमी, पैर की लंबाई असामान्य होती है. ऐसे खिलाड़ी व्हीलचेयर पर बैठकर कॉम्पिटिशन में हिस्सा लेते हैं. पहले भी 22 अगस्त को विनोद का टेस्ट हो चुका है, जिसमें वे पास हो गए थे.

30 अगस्त तक नहीं मिलेगा मेडल 

टोक्यो पैरालिंपिक्स (Tokyo Paralympics) के आयोजकों ने अपने बयान में कहा कि इस इवेंट के रिजल्ट का रिव्यू किया जा रहा है. इस वजह से विक्ट्री सेरेमनी को भी 30 अगस्त तक होल्ड किया गया है. भारत के मिशन प्रमुख (Chef de Mission) गुरशरन सिंह ने कहा कि भारत के लिए यह मेडल अभी लागू है. जांच के बाद ही कुछ साफ हो पाएगा.

‘विनोद का ब्रॉन्ज अभी भी जायज है’

भारत के मिशन प्रमुख गुरशरन ने कहा कि अभी हमें नहीं पता कि कितने देशों ने आपत्ति जताई है. इसके बारे में गेम्स ऑर्गेनाइजर्स (Games Organizers) ने कोई जानकारी नहीं दी है. पैरालिंपिक गेम्स शुरू होने से पहले भी उनकी जांच हो चुकी है. विनोद का ब्रॉन्ज अभी भी जायज है. सोमवार को उनका रिजल्ट डिक्लेयर किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें:- पैरालंपिक में भारत को तीसरा मेडल, डिस्कस थ्रो में विनोद कुमार ने लहराया परचम

एशियन रिकॉर्ड में भी दर्ज किया अपना नाम

विनोद ने 19.91 मीटर के डिस्कस थ्रो के साथ ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया. यह एक एशियन रिकॉर्ड भी है. उन्होंने अपने 6 अटैम्प्ट में 17.46 मीटर, 18.32 मीटर, 17.80 मीटर, 19.12 मीटर, 19.91 मीटर और 19.81 मीटर दूर चक्का फेंका. 

टोक्यो पैरालिंपिक में भारत के नाम हुए 3 मेडल

बताते चलें कि टोक्यो पैरालिंपिक में भारत ने अब तक 3 मेडल अपने नाम कर लिए हैं. विनोद के अलावा निषाद कुमार ने ऊंची कूद (High Jump) और भाविनाबेन पटेल ने टेबल टेनिस (Table Tennis) के महिला सिंगल्स इवेंट में सिल्वर मेडल जीता. निषाद ने T47 कैटेगरी और भाविनाबेन ने क्लास-4 कैटेगरी में हिस्सा लिया था.

(इनपुट: भाषा से भी) 

LIVE TV





Source link

Leave a Comment