Status, Apply for CSC Center, TEC Registration, Login|register.csc.gov.in|


csc login | csc registration 2022 | digital seva | tec registration | csc registration status | digimail | csc vle registration | csc certificate |csc registration status | csc new registration 2022 | csc login | tec registration

Common service center (CSC) is contributing a lot to make our India a digital nation. Actually Apna CSC is a PAN India Network that is working to make India a digital nation. Under this, many facilities are provided, which is for the general public. In today’s time, every government work is becoming online. For example, apply for the PAN card, Aadhar Update, applying for any government scheme, etc. all work is done online. All types of educational institutions are also becoming online. For example, if someone has to download the admit card or someone has to check their result, all the work is going online.

Even today in India, not everyone has the facility of internet, and even if it is, they do not know how to use the internet properly, they use internet only for entertainment. That is why CSC has come forward to advance the digital nation. Many services are provided under this. Which can help the common people. Like if they have to apply for PAN card, one has to withdraw money from bank account, one has to apply for any state or central government scheme, etc. All the work can be done through this csc portal.

CSC Registration 2022, Status, Online Apply 2022

In simple words, it includes many government and non-government services, which is beneficial for all citizens. If you want to know about csc in full detail then read this article till the end. We will give you information about its services, as well as how to apply for csc? We will also give information about it. Here you will get answers to almost all the questions related to csc. Even after reading this article, if any question remaind in your mind, let us know through a comment.

सीएससी के लिए आवेदन 2022: जैसा की आप सभी को पता होगा की अभी के समय में हर काम online होते जा रहा है. हर तरह के छोटे बड़े business भी online होते जा रहा है, अभी के समय में सभी सरकारी काम भी ऑनलाइन हो गये हैं. जैसे यदि किसी को पैन कार्ड बांवाना हो, या ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना हो, सभी तरह के सरकारी काम online हो गये हैं. सरकार के द्वारा उठाया गया यह कदम, आम नागरिक के लिए बहुत ही फायदेमंद है. क्योकि आप सभी जानते होंगे की पहले किसी भी काम को करने के लिए सरकारी कार्यालयों में कितना भीर लगा रहता है. एक काम को करने के लिए बहुत बार चक्कर लगाना पड़ता था.

New CSC Center Registration Process 2022

लेकिन अभी ऑनलाइन हो गया है तो लोगों के लिए काफी आसान हो गया है. क्योकि वे घर बैठे अपने mobile या computer से वे सभी काम कर पाएंगे. सभी सरकारी काम तो ऑनलाइन हो गया है और साथ ही पिछले कुछ सालों में internet का विस्तार भी काफी बढ़ा है लेकिन अभी भी सरकार के सामने एक बहुत बड़ा risk है की हर नागरिक को internet का सही उपयोग करने के लिए नही आता है. हमारे देश में ज्यादातर लोग internet का उपयोग सिर्फ मनोरंजन के लिए करते हैं.

इसी को देखते हुए CSC को लाया गया है. इसका पूरा नाम common service centre से ही पता चल रहा होगा की इसको आम नागरिकों की सेवाओं के लिए लाया गया है. यानि बहुत सारे सरकारी और गैर-सरकारी सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए कोई भी आम नागरिक csc के through आवेदन कर सकता है. CSC आज के समय में पुरे भारत के हर छोटे-बड़े गाँव कस्बे में उपलब्ध करवाया जा रहा है. ताकि यदि किसी नागरिक को किसी सरकारी योजना के लिए आवेदन करना हो तो csc में जाकर कर सकता है. इसके अलावा इसमें विभिन्न प्रकार की सेवाएं दी जाती है.

आज हम इस पोस्ट में आपको CSC से सम्बन्धित सभी जानकारी जानने वाले हैं. इसमें हम आपको csc के द्वारा दिए जाने वाले सभी सेवाओं के बारे में बताएँगे. यदि किसी को common service centre के लिए आवेदन करना है तो कैसे कर सकता है? क्या क्या योग्यताएं होनी चाहिए? ये सभी जानकारी आपको इसी पोस्ट में मिलने वाली है. तो चलिए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं.

CSC Digital Seva Registration 2022

CSC एक डिजिटल सेवा पोर्टल है जो CEC E-Government India Private Limited के द्वारा चलाया जाता है. यह एक पोर्टल प्रदान करता है, जिसमे अनेकों प्रकार के सेवाएँ उपलब्ध होती है. इससे पुरे भारत में ऑनलाइन सम्बन्धित काम किये जाते हैं. यह पुरे भारत के हर छोटे बड़े गाँव और कसबे तक फैला हुआ है.

इससे जो गाँव के लोग हैं, उन्हें काफी फायदा हुआ है. क्योकि पहले कोई भी ऑनलाइन संबंधित काम करने के लिए उन्हें बहार जाना पड़ता था. लेकिन अभी CSC के माध्यम से वो काम आसानी से कर लेते हैं. किसी भी सरकारी लाभ के लिए आवेदन करना हो तो csc के माध्यम से किया जा सकता है.

यह डिजिटल इंडिया को आगे बढ़ाने में बहुत सहायता किया है. उसके साथ ही बहुत सारे युवाओं को रोजगार का भी अवसर दिया है. इससे बहुत सारे युवा जो पढाई करके भी कुछ नही कर पाते थे, उनके लिए एक बहुत अच्छा अवसर निकल कर आया. वे सभी लोग CSC लेकर अच्छा खासा income generate कर सकते हैं.

सीएससी सेवा केंद्र ऑनलाइन आवेदन

आप में से बहुत से लोग इसके बारे में जानने के बाद CSC Digital Seva Kendra खोलने के बारे में सोच रहे होंगे. चूँकि मेने आपको पहले भी बताया है की इससे आप अपने गाँव के लोगों को तरह तरह की सुविधाएँ देकर अच्छे पैसे कमाएंगे ही इसके अलावा आपको CSC द्वारा भी पैसे दिए जायेंगे. आपको csc द्वारा कितने पैसे मिलेंगे ये आपके काम के ऊपर depend करेगा. यदि आपने अच्छा काम किया तो आपको अच्छी खासी income आ जाएगी. मतलब जितना आप लोगों का पैन कार्ड बनायेंगे, और कोई दुसरे काम करेंगे उसके हिसाब से आपको महीने में csc की तरफ से payment मिलेगा.

हम आपको यहाँ पर new registration करने की पूरी प्रक्रिया के बारे में बताने वाले हैं. लेकिन इससे पहले कुछ जरुरी बैटन को जानना जरुरी है. जैसे की CSC के लिए रजिस्ट्रेशन करने के क्या क्या योग्यताएं होनी चाहिए? इसके लिए कौन कौन से दस्तावेजों की जरुरत होगी? इसके लिए किन किन चीजों की जरुरत होगी? इससे सम्बन्धित बहुत सारे सवालों के जवाब पहले हम जान लेते हैं, फिर आपको इसके बारे में विस्तार से बताएँगे.

सीएससी आवेदन के लिए योग्यताएं:

  • CSC ID प्राप्त करने लिए आपकी Age कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए.
  • अगर हम शैक्षणिक योग्यता की बात करें तो इसके लिए कम से कम 10वीं की परीक्षा मान्य बोर्ड से होनी चाहिए.
  • आवेदक को कम्पुटर और इन्टरनेट के बारे में जानकारी होनी चाहिए. इसके साथ ही आवेदक को थोड़ी बहुत English भाषा का भी ज्ञान होना चाहिए.
  • आवेदक अपने ग्राम पंचायत के अन्दर ही CSC केंद्र खोल सकते हैं.

चलिए अब हम आपको CSC VLE बनने के लिए किन चीजों की जरुरत होगी, उसके बारे में बता रहे हैं. पहले आपको इन्हें खरीदना या फिर तैयार कर लेना होगा, जबही आप csc के लिए आवेदन दे सकते हैं.

  • Computer
  • UPSC
  • Internet Connection
  • Color Printer
  • Biometric Device
  • Shop/Room(कम से कम 100 – 150 वर्ग फीट का होना चाहिए)

ये सभी चीजें आपको तैयार करके रखना होगा, उसके बाद ही आप VLE रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन दे सकते हैं. इन सभी चीजों को खरीदने में आपको 1 लाख से ज्यादा तक का खर्च आ सकता है. इसलिए आपके पास पैसा होने चाहिए. यदि आपके पास ये सभी सामान पहले से ही मौजूद हैं तो और भी अच्छी बात है.

Documents Required

कॉमन सर्विस सेंटर खोलने के लिए आपके पास कुछ आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए. ये सभी डाक्यूमेंट्स आपको रजिस्ट्रेशन करते समय upload करना होगा. में आपको निचे इनके बारे में बता रहा हूँ. इन डाक्यूमेंट्स को सबसे पहले scan करके रख लें.

  • आवेदक की पासपोर्ट size की photo
  • पैन कार्ड नंबर
  • आधार कार्ड नंबर या VID नंबर
  • आवेदा का खता नंबर
  • आवेदक के बैंक पासबुक का cancle cheque
  • दुकान की फोटो (जहाँ आप CSC खोलना चाहते हैं, उस रूम की photo)

New CSC के लिए TEC Registration कैसे करें?

अभी सीएससी केवल उन्ही लोगों को दिया जा रहा है, जिनके पास TEC Certificate मौजूद है. यदि आपके पास ये नही है तो आप CSC के लिए ऑनलाइन आवेदन नही कर पाएंगे. यदि आप सीएससी सेवा केंद्र लेने के लिए इच्छुक हैं तो आपको पहले TEC का एग्जाम पास करना होगा. ये एग्जाम ऑनलाइन कंडक्ट किये जाते हैं. आप घर बैठे अपने लैपटॉप के सामने बैठ कर ये टेस्ट दे सकते हो. यदि आप पहली बार एग्जाम देंगे तो आपको बता दें की इसमें ज्यादा कठिन प्रश्न नही पूछे जाते हैं. इसमें आपको कंप्यूटर, इन्टरनेट और टेक्नोलॉजी से सम्बन्धित सामान्य प्रश्न पूछे जायेंगे. 

आपमें से बहुत से लोगों के मन में ये भी चल रहा होगा की इस एग्जाम के लिए क्या फीस है. तो आपको बता दें की इसके लिए आपको 1479 रुपये फीस देने होंगे. ये आप ऑनलाइन अपने डेबिट कार्ड के माध्यम से भी भुगतान कर सकते हो. उसके बाद आपको बताये गये तिथि और समय पर अपने लैपटॉप से एग्जाम देने होंगे. एग्जाम के बाद आपको तुरंत ही रिजल्ट दे दिया जायेगा. और आप इसका उपयोग नये सीएससी के लिए आवेदन करने में कर सकते हो. 

CSC VLE Registration 2022 कैसे करें? | register.csc.gov.in

दोस्तों आप सभी को मालूम होगा csc के लिए तीन प्रकार के लिए पंजीकरण होते हैं. 1. CSC VLE 2. SHG स्वयं सहायता ग्रुप 3. RDD (ग्रामीण विकास विभाग) में यहाँ आपको CSC VLE Online Registration करने के बारे में बता रहा हूँ. आप निचे बताये process को follow कर सकते हैं. आवेदनकर्ता को पहले ऊपर बताये गये निर्देशों को पढ़ लेना चाहिए.

  1. सबसे पहले आवेदनकर्ता को इसके अधिकारिक वेबसाइट के रजिस्ट्रेशन पेज में जाना होगा. इसके लिए इस लिंक पर क्लिक करें https://register.csc.gov.in/
  2. अब इस पेज में ऊपर मेनू में Apply पर क्लिक करना है, उसके बाद निचे New Registration का विकल्प आयेगा, इसपर क्लिक करना होगा.
csc new registration
  1. अब यहाँ से आपका रजिस्ट्रेशन का प्रोसेस start होता है. इसमें आपको सबसे पहले Application Type में VLE सेलेक्ट करना होगा. उसके बाद अपना mobile number और captcha भरने के बाद SUBMIT पर click करना होगा.
  1. अब आपके मोबाइल में एक otp आयेगा उसको वेरीफाई कर लें.
  2. अब आपको यहाँ पर पूरा details भरना होगा. में आपको निचे बता रहा हूँ की आपको अलग अलग चरणों में क्या क्या जानकारी भरना होगा. जैसे आप निचे screen पर भी देख सकते हो.
  • सबसे पहले चरण में आपको अपना Personal Details भरना होगा. जैसे नाम, D.O.B, Gender आदि.
  • फिर अगले चरण में आपको Residental Details भरना होगा. इसमें आपको अपने स्थाई पते के बारे में पूरी जानकारी भरना होगा.
  • उसके बाद अगले चरण में KIOSK Details भरना होगा.
  • फिर Next चरण में आपको Bank Details भरना होगा. जैसे बैंक खता नंबर, IFSC, आदि.
  • अब आपको अगले चरण में Documents को upload करने होंगे. (जिसके बारे में हमने आपको ऊपर जानकारी दी है)
  • अब Infrastructure, Terms, और Review जैसे चरणों में आपको ध्यान से पढ़कर details भरना होगा.
  1. अब अगले चरण में आपको जहाँ आप अपना CSC Center खोलना चाहते हैं ,उसका latitudes और longitudes भी mention करना होगा.
  1. यह सभी चरणों को complete करने के बाद आपको Form Review कर लेना होगा. उसके बाद आपको Submit कर देना होगा.

अब सबमिट करते ही आपका form रिव्यु होने के लिए चला जायेगा. कुछ दिनों का process होता हा, ये उसके बाद आपको सुचना दे दी जाएगी.

जरुरी सुचना:

अभी अगर आप CSC VLE registration के लिए इसके अधिकारिक website पर जाते है तो आपको कुछ इस तरह का message लिखा हुआ दिखाई देगा.

जैसा की पढ़ सकते हो की इस message में लिखा हुआ है की अभी फ़िलहाल csc new registration बंद है. इसका कारण ये लोग ये बता रहे हैं की प्रत्येक गाँव/पंचायत में VLE की संख्या पहले से ज्यादा हो चुकी है. इसलिए इन्होने अभी नया csc id generate करना बंद कर दिया है. हालाँकि, देखा जाये तो अभी भी हर ग्राम पंचायत में csc नही खुला है. हो सकता है आप जिस ग्राम से belong करते हो, वहाँ पर कोई भी csc पहले से नही है फिर भी आप इसके लिए आवेदन नही कर पाएंगे.

साथ ही दोस्तों आप देख सकते हो की इस message में ये भी लिखा हुआ आ रहा है की जरुरत होगी तो ये फिर से रजिस्ट्रेशन चालू कर देंगे. इसका मतलब ये तत्काल के लिए ही बंद हुआ है. आप थोडा इन्तेजार कीजिये csc रजिस्ट्रेशन चालू होते ही id मिल जायेगा.

New CSC Center Registration Process

अभी फ़िलहाल सीएससी सेंटर मिलना चालू हो गया है. जो अभ्यर्थी सीएससी के लिए असदन करना चाहते हैं, उन्हें पहले Telecentre Entrepreneur Course (TEC) का एग्जाम पास करना होगा. आपको बता दें की यह एग्जाम ऑनलाइन कंडक्ट किया जाता है. जो लोग TEC का टेस्ट पास कर लेंगे फिर वो सीएससी के लिए ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे. 

अभी आप CSC Registration Page में जायेंगे तो CSC VLE रजिस्ट्रेशन के लिए आपसे TEC Certificate Number पूछा जायेगा. उसके बाद मोबाइल नंबर और काप्त्चा एंटर करने के बाद Submit करना होगा.

Csc Registration Tec No
Csc Registration Tec No

अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म आ जायेगा. इसमें आपको सभी जानकारी सही सही एंटर करके सबमिट कर देना होगा. उसके बाद आपका एप्लीकेशन रिव्यु करके आपको ईमेल के माध्यम से सूचित कर दिया जायेगा. 

CSC Registration Status Status Check Kaise Kare?

यदि आपने CSC के लिए आवेदन दे दिया है और आप अपने आवेदन की स्तिथि जानना चाहते हैं तो आपको निचे बताये गये steps को follow करना है उसके बाद आप आसानी से जान जायेंगे की आपको अभी तक csc id क्यों नही मिला है या कब मिलेगा?

  1. सबसे पहले आपको CSC Register पेज में जाना होगा. उसके बाद ऊपर मेनू में Apply पर क्लिक करने के बाद Status Check पर क्लिक करेंगे.
  1. उसके बाद आपके सामने एक नया पेज आ जायेगा. यहाँ आपको अपना Reference number एंटर करना होगा जो आपको आवेदन करने के बाद मिला था. उसके बाद Captcha एंटर करके SUBMIT बटन पर click करें.

अब यहाँ आपको बता दिया जायेगा की आपका आवेदन सफल हो पाया या नही. किस वजह से आपका आवेदन सफल नही हो पाया? इस तरह की जानकारी आपको यहाँ पर मिल जायेगा.

New CSC Operator Add – सीएससी ऑपरेटर कैसे जोड़े ?

यह सवाल आप में से बहुत से लोगों के मन में होगा तो चलिए अब हम आपको बता देते हैं की आप csc में एक operator के तौर पर कैसे जुड़ सकते है. साथ ही आपको बता दें की operator बनने के बाद आपको कई सारे अन्य सुविधाएँ भी मिल जाती है. ये बिलकुल free है, सब आपको निचे बताये गये process को follow करना होगा.

  1. सबसे पहले CSC Login पेज पर जाएँ. उसके बाद यहाँ सबसे टॉप पर LOGIN बटन पर क्लिक करके अपना username और password देकर login कर लें.
  1. अब डैशबोर्ड में आने के बाद आपको लेफ्ट मेनू में Account पर Click करना होगा फिर आपको Operators पर click करना होगा.
  1. उसके बाद यहाँ Add Operator icon (+) पर click करें.अब आपके सामने एक form खुलेगा. इसमें आपको अपने बारे में कुछ जानकारी भरनी होगी, use बाद आपको SUBMIT पर click करना होगा.

इस तरह से आप CSC operator बनने के लिए आवेदन दे सकते हो. उसके बाद आपके आवेदन को रिव्यु किया जायेगा. फिर आपको operator बना दिया जायेगा.

CSC Login कैसे करें? Login CSC Digital Seva?

अब जिन लोगों को CSC का id मिल गया है, उन्हें login करने के बारे में बता रहा हूँ. बहुर से लोगों को इसके बारे में पहले से जानकारी नही होती है, तो इसलिए में आपो step by step पूरी जानकारी बता रहा हूँ.

  1. सबसे पहले आपको https://digitalseva.csc.gov.in/ में visit करना होगा. उसके बाद आपको ऊपर LOGIN पर click करना होगा.
  1. अब आपको यहाँ पर अपना CSC Username और Password एंटर करना होगा. फिर SIGN IN बटन पर click करें. नोट: अगर username काम नही करें तो username की फील्ड में CSC id भी एंटर कर सकते हैं.
  1. अब लॉग इन करने के बाद आप CSC Dashboard में आ जायेंगे. आप निचे स्क्रीन में भी देख सकते हो.

इस तरह से सीएससी के पोर्टल में login कर सकते हो. अगर आपको login करने में किसी प्रकार की दिक्कत हो तो आप csc के support टीम से बात कर सकते हैं. इसके लिए मेने निचे में contact details भी बताया हुआ है.

स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) 2022 के लिए सीएससी पंजीकरण

  • इस प्रकार इस स्वयं सहायता समूह से वे खुद को प्रोत्साहित कर सकते हैं और अपनी गरीबी को कम कर सकते हैं।
  • एक भारतीय ग्रामीण को अपने जीवन में बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है जैसे गरीबी, अशिक्षा, अपने कौशल की कमी, और औपचारिक ऋण, आदि।
  • इसमें 10 से 20 लोग एक समूह बनाते हैं और जरूरतमंद व्यक्ति की मदद के लिए आते हैं
  • एक स्वयं सहायता समूह उन लोगों का अनौपचारिक संघ है, जिन्होंने एक साथ आने के लिए चुना है ताकि वे अपने रहने की स्थिति में सुधार कर सकें।
  • SHG महिलाओं को सशक्त बनाने में मदद करता है और उनमें टीम नेतृत्व की गुणवत्ता विकसित कर रहा है,
  • बहुत सारे सरकारी और निजी बैंक हैं जिन्होंने अपनी आवश्यकताओं के लिए इन स्वयं सहायता समूहों को ऋण आवंटित किया है।
  • इस समूह के सदस्यों ने खुद को आजीविका गतिविधियों में शामिल किया जैसे किराने की दुकान चलाना, मोमबत्ती बनाना, जरी का काम, सिलाई मशीन का काम और कुछ अन्य काम।
  • समूह का प्रत्येक व्यक्ति कुछ धनराशि बचाता है जिसे वह एक महीने में कमाता है।
  • इससे कुछ महिलाएं अपने ग्राम सभा चुनावों में अधिक सक्रिय रूप से भाग ले रही हैं।
  • यदि समूह में से कोई भी व्यवसाय शुरू करना चाहता है तो समूह का प्रत्येक सदस्य उसकी मदद करता है।
  • SHG परिवारों की जीवन शैली और आर्थिक स्थिति में सुधार और उनके आत्मसम्मान को बढ़ाता है।
  • तीन प्रकार के एसएचजी हैं, दस सदस्यों के एक समूह को औसत से नीचे बैंक द्वारा स्थान दिया जाएगा और 15 सदस्यों के समूह को औसत स्थान दिया जाएगा और 20 सदस्यों के समूह को औसत से ऊपर स्थान दिया जाएगा। आप 20 से अधिक लोगों का समूह नहीं बना सकते।
  • पंजीकरण के लिए, आपको https://register.csc.gov.in/register लिंक पर जाकर आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा

CSC Registration 2022 Statewise List

  • अण्डमान और निकोबार
  • आंध्र प्रदेश
  • अरुणाचल प्रदेश
  • असम
  • बिहार
  • चंडीगढ़
  • छत्तीसगढ
  • दादरा और नगर हवेली
  • दमन और दीव
  • दिल्ली
  • गोवा
  • गुजरात
  • हरयाणा
  • हिमाचल प्रदेश
  • जम्मू और कश्मीर
  • झारखंड
  • कर्नाटक
  • केरल
  • लक्षद्वीप
  • मध्य प्रदेश
  • महाराष्ट्र
  • मणिपुर
  • मेघालय
  • मिजोरम
  • नगालैंड
  • ओडिशा
  • पुदुचेरी
  • पंजाब
  • राजस्थान Rajasthan
  • सिक्किम
  • तमिलनाडु
  • तेलंगाना
  • त्रिपुरा
  • उतार प्रदेश
  • उत्तराखंड
  • पश्चिम बंगाल

List of Services Provided by Common Service Centre:

CSC के अंतर्गत बहुत सारी सेवाएँ आती है, उनमे से ज्यादातर सेवाएँ government से जुड़े हुए ही हैं. सीएससी के लिए सरकार ने 2006 को ही अनुमति दे दिया था. CSC ई-शाशन, शिक्षा, स्वस्थ, टेलीमेडिसिन, मनोरंजन, के साथ साथ अन्य निजी सेवाओं के क्षेत्रों में उच्च गुणवत्ता और लागत प्रभावी विडियो, आवाज और डेटा सामग्री और सेवाएँ प्रदान करेगा. CSCs का एक आकर्षण यह है कि यह ग्रामीण क्षेत्रों में वेब-सक्षम ई-गवर्नेंस सेवाओं की पेशकश करेगा, जिसमें आवेदन पत्र, प्रमाण पत्र, और बिजली, टेलीफोन और पानी के बिल जैसे उपयोगिता भुगतान शामिल हैं। G2C सेवाओं के ब्रह्मांड के अलावा, CSC दिशानिर्देश में विभिन्न प्रकार की सामग्री और सेवाओं की परिकल्पना की गई है, जिन्हें नीचे सूचीबद्ध किया जा सकता है:

  • कृषि सेवाएँ (Agriculture, Horticulture, Sericulture, Animal Husbandry, Fisheries, Veterinary)
  • शिक्षा और प्रशिक्षण सेवाएँ (School, College, Vocational Education, Employment, etc.)
  • स्वास्थ्य सेवाएं (Telemedicine, Health Check-ups, Medicines)
  • ग्रामीण बैंकिंग और बीमा सेवाएँ (Micro-credit, Loans, Insurance)
  • मनोरंजन सेवा (Movies, Television)
  • उपयोगिता सेवाएँ (Bill Payments, Online bookings)
  • वाणिज्यिक सेवाएं (DTP, Printing, Internet Browsing, Village level BPO)

अब हम आपको निचे बता रहे हैं, सीएससी सेवाएँ किन उद्देश्यों को पूरा करता है:

  • उनके भूगोल के आधार पर एक सीएससी की विशिष्ट पहचान प्रदान करता है।
  • सीएससी के एक केंद्रीकृत डेटाबेस को बनाए रखता है, VLE के पते, ईमेल और संपर्क के साथ
  • सीएससी की ऑनलाइन पंजीकरण स्थिति को सक्षम करता है।
  • CSCs के अपटाइम प्रदर्शनों को प्रतिदिन ऑनलाइन पंजीकृत किया गया है।
  • प्रत्येक सीएससी पर बीएसएनएल कनेक्टिविटी स्थिति की रिकॉर्डिंग करने में सक्षम बनाता है।

CSC Operator Regsitration – Services Full Details

चलिए अब हम आपको निचे विस्तार से बता रहे हैं. सिएससी द्वारा दिए जाने वाले सभी सेवाओं के बारे में हम निचे आपको बता रहे हैं.

1. Government to Citizen:

यह CSC के दिए जाने वाली सबसे प्रमुख सेवाएँ हैं. ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में नागरिकों को वितरण के लिए CSC के माध्यम से राज्य-विशिष्ट सेवाओं के अलावा केंद्र सरकार द्वारा के मंत्रालयों और विभागों की विभिन्न सेवाओं को एकत्रित किया गया है. इसके अंतर्गत बहुत साड़ी सेवाएँ आती है, जिनके बारे में निचे जानकारी दी गयी है.

Bharat Billpay:

भारत बिल पे भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) द्वारा conceptualised system है जो National Payments Corporation of India (NPCL) द्वारा संचालित किया जाता है. इसके माध्यम से सभी तरह के बिल का भुगतान किया जा सकता है. जैसे की बिजली बिल, मोबाइल, ब्रॉडबैंड, लैंडलाइन, डीटीएच, गैस, पानी, आदि के लिए बिल पेमेंट करने की सुविधा प्रदान करता है.

CSC SPV के साथ BBPOU बनने के बाद Bharat Bill pay service दिया जाता है. जिसके बाद ग्रामीण इलाकों में आसानी से electricity, water, gas, DTH आदि जैसे बिल pay किये जा सकते हैं.

FASTag through CSCs

FASTag भारत में एक इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली है जो NHAI द्वारा संचालित है। FASTag का उपयोग करने के लिए एक सरल है, पुनः लोड करने योग्य टैग जो टोल शुल्क के स्वत: कटौती को सक्षम करता है और आपको नकद लेनदेन के लिए रोक के बिना टोल प्लाजा से गुजरने देता है। टैग रेडियो-फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) तकनीक को रोजगार देता है और टैग अकाउंट के सक्रिय होने के बाद वाहन की विंडस्क्रीन पर चिपका दिया जाता है। यह वर्तमान में राष्ट्रीय और राज्य राजमार्गों पर 425 से अधिक टोल प्लाजा पर चालू है।

CSC के नेटवर्क के माध्यम से FASTags को दूर करने के लिए CSC SPV ने NHAI के साथ भागीदारी की है। वीएलई डिजिटल सेवा पोर्टल के माध्यम से खरीद करने के बाद टोल प्लाजा पर FASTags को तितर बितर करेगा; पोर्टल पर ग्राहक का विवरण दर्ज करें और कार पर टैग चिपकाएं।

Passport

विदेश मंत्रालय ने ग्रामीण इलाकों में सीएससी के माध्यम से पासपोर्ट सेवा सेवाओं को शुरू करने के लिए 2014 में सीएससी एसपीवी के साथ भागीदारी की। सीएससी के माध्यम से उपलब्ध सेवाओं में पासपोर्ट आवेदन फॉर्म भरना और दस्तावेज अपलोड करना, शुल्क का भुगतान और passport kendra में जाने के लिए समय का चुनाव करना शामिल है। 2016-17 के दौरान, देश भर में सीएससी नेटवर्क के माध्यम से लगभग 2.19 लाख पासपोर्ट आवेदन प्रस्तुत किए गए थे। यदि आप CSC लेते हो तो फिर आप पासपोर्ट के लिए भी आवेदन कर पाएंगे.

PAN Card

इसके अंतर्गत आपको पैन कार्ड बनाने की भी सुविधा दी जाती है. जिससे आप किसी का भी पैन कार्ड का ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे. इसके लिए आपको आवेदक के बारे में details देना होगा, मांगे गये दस्तावेजो को upload करना होगा, फिर फीस का भुगतान करना होगा. इस तरह से आप आसानी से पैन कार्ड के लिए आवेदन कर पाएंगे. NSDL के माध्यम से पैन कार्ड सेवा CSCs के लिए फरवरी 2016 में पेश की गयी थी. 2016-17 में CSC के माध्यम से 28.94 लाख आवेदन प्रस्तुत किये गये हैं.

Swachh Bharat Abhiyan

2014 में स्वच्छ भारत अभियान देश की सड़कों, सड़कों और बुनियादी ढांचे को साफ करने के लिए सरकार द्वारा शुरू किया गया सबसे बड़ा स्वच्छता अभियान है। 2016 में, शहरी विकास मंत्रालय ने अभियान के तहत देश भर में व्यक्तिगत घरेलू शौचालयों के निर्माण के लिए CSC के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन की सुविधा के लिए सीएससी के साथ भागीदारी की। 2016-17 के दौरान, स्वच्छ भारत अभियान के तहत सीएससी नेटवर्क के माध्यम से व्यक्तिगत घरेलू शौचालयों के लिए 5.26 लाख आवेदन प्रस्तुत किए गए थे।

Pradhan Mantri Awas Yojna

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) शहरी गरीबों के लिए किफायती आवास इकाइयां बनाने के लिए सरकार की एक महत्वाकांक्षी आवास योजना है। हालांकि, देश के पूरे शहरी क्षेत्र को इस योजना के तहत कवर किया जाएगा, प्रारंभिक ध्यान 500 चुनिंदा शहरों पर है।

नवंबर 2016 में, CSCs के माध्यम से PMAY आवेदन प्राप्त करने के लिए आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय (MHUPA) और CSC SPV के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए थे। यह सेवा राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में शहरी क्षेत्रों में स्थित 60,000 सीएससी द्वारा प्रदान की जा रही है। 2016-17 के दौरान, प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) योजना के तहत सीएससी नेटवर्क के माध्यम से 27.97 लाख आवेदन प्रस्तुत किए गए थे।

FSSAI

Food Safety and Standards Authority of India (FSSAI) ने CSC SPV के साथ जुलाई 2016 में सीएससी के माध्यम से Food Business Operator (FBO) registration service प्रदान करने के लिए भागीदारी की। यह पहल देश में बड़ी संख्या में अपंजीकृत FBOs को सीएससी के विशाल नेटवर्क के माध्यम से FSSAI के साथ पंजीकृत करने के उद्देश्य से है। सेवा के तहत, सीएससी के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन दाखिल करने के बाद पंजीकरण प्रमाणपत्र स्वतः उत्पन्न होता है। 2016-17 के दौरान, सीएससी के माध्यम से एफबीओ पंजीकरण के लिए 95,603 आवेदन प्रस्तुत किए गए हैं।

Soil Heal Card

मृदा स्वास्थ्य कार्ड सरकार द्वारा किसानों के लिए जारी किए जाते हैं, जिनमें पोषक तत्वों की फसलवार सिफारिशें होती हैं और इनपुट के विवेकपूर्ण उपयोग के माध्यम से उत्पादकता में सुधार के लिए व्यक्तिगत खेतों के लिए आवश्यक उर्वरकों की आवश्यकता होती है। 2015 में एक योजना के रूप में शुरू की गई, सरकार ने 14 करोड़ किसानों को ये कार्ड जारी करने की योजना बनाई है।

कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना में सीएससी को संलग्न करने के लिए दिसंबर 2016 में सीएससी एसपीवी के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। 2016-17 के दौरान, 23 राज्यों में सीएससी के माध्यम से 1.24 लाख किसान पंजीकरण हुए हैं।

e-District

जिले सरकार के वास्तविक तथ्य हैं। प्रमाण पत्र, लाइसेंस, राशन कार्ड, सामाजिक कल्याण पेंशन के संवितरण, RTI के ऑनलाइन दाखिल-खारिज, भूमि पंजीकरण, भूमि रिकॉर्ड, , सरकारी कर, उपयोगिता बिल भुगतान इत्यादि। जैसे विभिन्न सेवाओं के माध्यम से जिलों में नागरिकों के लिए G2C interaction के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजना की परिकल्पना की गई है।

11 राज्य और 3 केंद्र शासित प्रदेशों की ई-जिला सेवाएं डिजिटल सेवा पोर्टल पर उपलब्ध हैं। ये राज्य / केंद्र शासित प्रदेश हैं: असम, छत्तीसगढ़, हरियाणा, झारखंड, मध्य प्रदेश, नागालैंड, ओडिशा, पंजाब, त्रिपुरा, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल, दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव और पुडुचेरी। 2016-17 के दौरान, ई-जिला सेवाओं के लिए डिजिटल सेवा पोर्टल पर 40.51 लाख लेनदेन किए गए हैं।

Election Commission Services

भारत निर्वाचन आयोग ने परेशानी मुक्त चुनावों के लिए मतदाता सूची में नामांकन में सुधार और डेटा त्रुटियों को सुधारने के अपने प्रयास में, CSC SPV के साथ विभिन्न चुनावी पंजीकरण प्रपत्रों की डिलीवरी और CSC के माध्यम से EPIC प्रिंटिंग के लिए साझेदारी की है। अब तक, त्रिपुरा, पंजाब, छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, तमिलनाडु, गुजरात, हरियाणा और महाराष्ट्र के चुनावी पंजीकरण प्रबंधन प्रणाली (ईआरएमएस) को डिजिटल सेवा पोर्टल के साथ एकीकृत किया गया है।

2016-17 के दौरान, सीएससी के पास इन नौ राज्यों में 34,780 इलेक्टोरल रजिस्ट्रेशन फॉर्म हैं, जहां इन नौ राज्यों में सीएससी नेटवर्क के माध्यम से 56.18 लाख EPIC मुद्रित और वितरित किए गए हैं।

2. Business to Citizen

इसके अंतर्गत भी कई सारी सेवाएँ मिलती है, जिनके बारे में हम निचे विस्तार से जानने वाले हैं.

Mobile Recharge

इस पोर्टल के माध्यम से आप सभी 14 telecom operator के मोबाइल रिचार्ज किया जा सकता है. आप एयरटेल, जिओ, आईडिया, वोडा, बीएसएनएल और अन्य सभी टेलिकॉम ऑपरेटर के मोबाइल रिचार्ज कर पाएंगे. इसके लिए आपको कमीशन भी दिया जायेगा. यह सेवा टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स से जुड़ती है ताकि ग्राहक अपने मोबाइल का तुरंत रिचार्ज कर सकें। भुगतान डिजिटल सेवा पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध ई-वॉलेट के माध्यम से किया जा सकता है।

Mobile Bill Payment

8 Telecom Service Providers के मोबाइल बिल भुगतान डिजिटल सेवा पोर्टल के माध्यम से किए जा सकते हैं। यह सेवा दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के साथ जुड़ती है ताकि ग्राहक अपने मोबाइल बिलों का वास्तविक समय पर भुगतान कर सकें।

DTH Recharge

आप csc पोर्टल के माध्यम से DTH का भी रिचार्ज कर पाएंगे. किसी भी कम्पनी की Dish TV Recharge आप आसानी से कर पेमेंट कर पाएंगे. पेमेंट आपके वॉलेट से काटा जायेगा फिर आप ग्राहक से पैसे ले सकेंगे.

3. Financial Inclusion

Digital Finance Inclusion, Awareness & Access:

डिजिटल वित्तीय साक्षरता के बारे में जागरूकता की कमी, विशेष रूप से ग्रामीण आबादी के बीच देश में एक बड़ी चुनौती है, सरकार द्वारा विमुद्रीकरण के प्रकाश में और भारत को कैशलेस अर्थव्यवस्था बनाने की योजना। डिजिटल वित्तीय सेवाओं के बारे में विशेषकर ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में नागरिकों के बीच जागरूकता पैदा करने की तत्काल आवश्यकता थी। नवंबर 2016 में सरकार द्वारा शुरू की गई “CSC की डिजिटल इंडिया: डिजिटल इंडिया के लिए जागरूकता और पहुँच के तहत” सरकार के द्वारा शुरू की गई परियोजना के तहत, CSCs को सरकारी नीतियों और ग्रामीण नागरिकों के लिए उपलब्ध डिजिटल वित्त विकल्पों के साथ-साथ विभिन्न तंत्रों को सक्षम करने के लिए जागरूकता सत्र आयोजित करने में सक्षम बनाया गया था। डिजिटल वित्तीय सेवाएं जैसे कि IMPS, UPI, बैंक PoS मशीनें आदि। इस परियोजना को मार्च 2017 तक CSC SPV द्वारा अभियान के रूप में चलाया गया था। सीएससी SPV को इस कार्यक्रम के तहत 100 लाख नागरिकों के पंजीकरण और 25 लाख छोटे व्यापारियों को सक्षम बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। मार्च 2017 तक, CSC SPV ने 2 करोड़ से अधिक नागरिकों को पंजीकृत किया और लगभग 21 लाख व्यापारियों को सक्षम किया।

VLE Bazaar – A Rural e-commerce venture

VLE Bazaar एक ऑनलाइन बाज़ार मंच है जो अद्वितीय भारतीय हस्तशिल्प और कुटीर उत्पादों के लिए समर्पित है जो हस्तनिर्मित, जातीय, जैविक और प्राकृतिक हैं। इसका उद्देश्य ग्रामीण अर्थव्यवस्था की क्षमता को अच्छी नौकरियों और विश्वसनीय आय की कमी, कम उत्पादकता, अनौपचारिकता, अप्रभावी संगठन को संबोधित करना और निर्णय लेने में ग्रामीण लोगों की भागीदारी को प्रोत्साहित करना है। VLE बाज़ार इस खाई को पाटने और ग्रामीण कारीगरों और शहरी उपभोक्ताओं के बीच बहुत ज़रूरी प्लेटफ़ॉर्म प्रदान करने के लिए काम कर रहा है। खरीदे गए उत्पाद पारंपरिक ज्ञान, स्थानीय कला, आधुनिक तकनीक और डिजाइन इनपुट के एक तत्व के साथ विशेष क्षेत्र की विशेषता है। VLE बाज़ार का उद्देश्य शिल्प आधारित उद्यमों को विकसित करना और आजीविका उत्पादन के नए और व्यावसायिक रूप से स्थायी मॉडल का पता लगाना है।

VLE बाज़ार सूची में शामिल हैं:

  • Products from TERI- The Energy And Resource Institute
  • Leather products
  • Publications
  • Jute Bags from West Bengal
  • Organic India products
  • Stoves & Solar LED
  • Pulses and spices
  • Pickles
  • Himcraft products
  • Organic Tea
  • SOCHE NGO handmade products
  • Shawls from Uttarakhand and Nagaland
  • Agra Shoes
  • Madhubani Paintings
  • Handicrafts Jute items from West Bengal
  • Saffron and Kahwa from JK

Skill Development

सीएससी एसपीवी ने कौशल विकास पाठ्यक्रम शुरू किया है –

  • ग्रामीण क्षेत्रों में युवाओं को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना
  • उन्हें प्रमाणित करना, और
  • उन्हें उपयुक्त रोजगार के अवसरों के लिए या स्व-रोजगार के योग्य बनाना।

कौशल विकास के तहत पहल:

  • विकलांगता के साथ व्यक्तियों की कौशल (PwDs)
  • PMKVY के तहत प्री लर्निंग (RPL) की मान्यता

CSCs as GST Suvidha Provider

गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) भारत में कराधान की नई प्रणाली है जिसने कई व्यक्तिगत रूप से लागू करों को एक कर में विलय कर दिया है। संविधान के 101 वें संशोधन विधेयक के पारित होने के बाद इसे संविधान (एक सौ और पहला संशोधन) अधिनियम 2016 के रूप में पेश किया गया था।

जीएसटी केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा लगाए गए करों को बदलने के लिए पूरे भारत में वस्तुओं और सेवाओं के निर्माण, बिक्री और खपत पर एक व्यापक अप्रत्यक्ष कर है।

हालांकि जीएसटी प्रणाली में करदाताओं के लिए जीएसटी प्रणाली तक पहुंचने के लिए जी 2 बी पोर्टल होगा, जीएसटी सुविधा प्रदाता या जीएसपी जीएसटी प्रणाली के साथ बातचीत करने के तरीकों में से एक है। जीएसटी सुविधा प्रदाता के माध्यम से करदाता, जो डेस्कटॉप, मोबाइल और अन्य इंटरफेस के माध्यम से सभी उपयोगकर्ता इंटरफेस और सुविधा प्रदान करेगा, जीएसटी प्रणाली के साथ बातचीत करने में सक्षम होगा।

सीएससी एसपीवी ने जीएसटी सुविधा प्रदाता बनने की पहल की है। देश भर के सभी सीएससी जीएसटी सुविधा प्रदाता के रूप में काम करेंगे और व्यापारियों को नए शासन के तहत करों को दाखिल करने में मदद करेंगे और लोगों को आवश्यक प्रशिक्षण और सहायता सेवाएं भी प्रदान करेंगे।

CSC Banking (Bank CSP) Apply:

2010 में, भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने वित्तीय समावेशन के दायरे में नागरिकों को ग्रामीण क्षेत्रों में लाने के लिए CSCs के माध्यम से वित्तीय सेवाओं की डिलीवरी के लिए बैंकों को दिशा-निर्देश जारी किए। सीएससी एसपीवी ने तब से 42 सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के साथ भागीदारी की है, जो अपने अंतिम मील नेटवर्क का लाभ उठाने के लिए, विशेष रूप से हाशिए के समुदायों और महिलाओं को बैंकिंग के तहत लाते हैं। इस साझेदारी के तहत, देश भर के CSCs नागरिकों को बैंकिंग सुविधाएं देने के लिए बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट एजेंट / कस्टमर सर्विस पॉइंट बन सकते हैं, जैसे:

  • खाता खोलना (मैनुअल)
  • खाते खोलना (eKYC)
  • धन जमा
  • पैसे की निकासी
  • शेषराशी पूछताछ
  • आवर्ती / सावधि जमा

2016-17 के दौरान, 36 बैंकों – 23 पीएसयू बैंकों और 13 ग्रामीण बैंकों की बैंकिंग सेवाएं देश भर में 11,940 ईसा पूर्व अंकों के माध्यम से उपलब्ध कराई गई हैं। वित्तीय वर्ष के दौरान, 382.71 लाख रुपये का लेनदेन। इन बीसी द्वारा 5,70,163.61 लाख किया गया।

2016-17 के दौरान, 1,26,309 VLE ने डिजी पे सेवा के तहत पंजीकरण किया है। रुपये वापस लेने के लिए डिजी पे के तहत सीएससी में लगभग 28.351 लाख सफल लेनदेन किए गए हैं। 17,901.89 लाख।

Insurance Service

CSC SPV ने 2013 में इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (IRDA) से रूरल ऑथराइज्ड पर्सन्स यानी VLE के माध्यम से मार्केट लाइफ और नॉन-लाइफ इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स के लिए अधिकृत मध्यस्थ के रूप में काम करने के लिए लाइसेंस प्राप्त किया। CSCs ने ग्रामीण निवेशकों को स्वास्थ्य और जीवन बीमा पॉलिसियों की पेशकश शुरू की। अब तक, 36 बीमा कंपनियां सीएससी के माध्यम से विभिन्न बीमा पॉलिसियों की पेशकश करने के लिए बोर्ड पर आई हैं। CSCs ने अपने ग्रामीण ग्राहकों को मोटर थर्ड पार्टी इंश्योरेंस की पेशकश भी शुरू कर दी है।

नई नीतियों की बिक्री: 2016-17 के दौरान, 40,016 आरएपी वीएलई ने नई बीमा पॉलिसियों, जीवन और गैर-जीवन, दोनों को बेचकर 2,15,677 नए ग्राहकों को बेच दिया और प्रीमियम का संग्रह किया। उन ग्राहकों से 2389.57 लाख रु।

नवीकरण प्रीमियम का संग्रह: देश भर के सीएससी जीवन बीमा पॉलिसियों के नवीनीकरण की दिशा में बीमा प्रीमियम भी एकत्र कर सकते हैं। 2016-17 के दौरान, लगभग 40,000 सीएससी 18 बीमा कंपनियों की जीवन बीमा पॉलिसियों के नवीनीकरण में लगे हुए हैं। वर्ष के दौरान, इन आरएपी ने नवीकरणीय प्रीमियम को रु। में एकत्र किया है। मौजूदा 8,31,710 जीवन बीमा पॉलिसी धारकों में से 31,026.36 लाख।

जन सुरक्षा योजनाएँ: 2015 में, सरकार ने नागरिकों के लिए विशेष रूप से असंगठित क्षेत्र और हाशिए के समुदायों के लिए तीन विशेष बीमा और पेंशन योजनाएँ शुरू कीं। BCAs के रूप में काम करने वाले VLE तीन सामाजिक सुरक्षा योजनाओं – प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY), प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) और अटल पेंशन योजना (APY) की पेशकश कर सकते हैं। पंजाब नेशनल बैंक ने देश भर में CSCs के माध्यम से अपने खाताधारकों के APY नामांकन को बढ़ाने पर सहमति व्यक्त की है।

Pension Service

राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस) एक स्वैच्छिक, परिभाषित योगदान सेवानिवृत्ति बचत योजना है, जो ग्राहकों को उनके कामकाजी जीवन के दौरान व्यवस्थित बचत के माध्यम से अपने भविष्य के बारे में इष्टतम निर्णय लेने में सक्षम बनाती है। एनपीएस नागरिकों के बीच सेवानिवृत्ति के लिए बचत की आदत को विकसित करना चाहता है। यह भारत के प्रत्येक नागरिक को पर्याप्त सेवानिवृत्ति आय प्रदान करने की समस्या का एक स्थायी समाधान खोजने की दिशा में एक प्रयास है।

एनपीएस एक अद्वितीय स्थायी सेवानिवृत्ति खाता संख्या (पीआरएएन) पर आधारित है जो एनपीएस में शामिल होने पर प्रत्येक सब्सक्राइबर को आवंटित किया जाता है। जब वह काम कर रहा होता है तो एनपीएस सब्सक्राइबर पीआरए में बचत जमा करता है और सेवानिवृत्ति पर संचय का उपयोग करते हुए अपने जीवन के शेष समय के लिए पेंशन प्राप्त करता है। एनपीएस सेवा को अप्रैल 2017 से सीएससी के माध्यम से लॉन्च किया गया है।

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojna (PMFBY)

प्रधान मंत्री आवास बीमा योजना (PMFBY) सरकार की एक व्यापक, उपज आधारित फसल बीमा योजना है, जिसका उद्देश्य अप्रत्याशित घटनाओं से उत्पन्न होने वाली फसल हानि / क्षति से पीड़ित किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है। इस योजना के कारण फसल के नुकसान को कवर किया गया है –

  • रोका बुवाई / रोपण जोखिम
  • सूखा, सूखा मंत्र, बाढ़, बाढ़, कीट और रोग, प्राकृतिक आग और बिजली, तूफान, चक्रवात, आंधी, आंधी, तूफान और बवंडर आदि जैसे गैर-रोके जाने योग्य जोखिम।
  • कटाई के बाद के नुकसान
  • स्थानीय आपदाओं – ओलावृष्टि के कारण, बजाज एलियांज जनरल इंश्योरेंस कंपनी के साथ साझेदारी में सीएससी एसपीवी नेटवर्क के माध्यम से किसानों के लिए 2017 में ओलावृष्टि, भूमि की कटाई और फसल बीमा शुरू किया गया है।

CSC Digimail Login

जो लोग CSC के लिए रजिस्ट्रेशन कर लिए हैं, उन्हें एक अलग प्रकार का email id दिया जाता है. आपको सबसे पहले बता दे की digimail जीमेल के ही तरह एक mail service है. आपको gmail id के साथ gmail.com का extension मिलता है और digimail के साथ digimail.in extension होता है.

इन दोनों की service बिलकुल एक जैसी होती है. दोनों में फर्क बस इतना होता है की gmail id किसी को भी मिल सकता है लेकिन digimail id सिर्फ CSC उपभोगता को ही मिलेगा. बाकि दोनों का काम बिलकुल एक ही जैसा है. इसमें लॉग इन करने के लिए आपको CSC Login page में जाना होगा. फिर उसके बाद Digimail Login पर click करना होगा. आप निचे दिए link पर click करके direct digimail के login page पर जा सकते हो.

CSC VLE Helpline Contact Details

Email: care[at]csc.gov.in
Phone: 011 4975 4924
Toll-free number: 1800-121-3468
Address: Ministry of Electronics & Information Technology, Electronics Niketan New Delhi – 110003

में अपना CSC Status कैसे चेक कर सकता हूँ?

आप इसके अधिकारिक वेबसाइट में जाकर अपने आवेदन की स्तिथि जान सकते हो. इसके बारे में हमने ऊपर जानकारी दी हुई है.

Digipay क्या है?

यह banking services प्रदान करता है. इसके द्वारा आप किसी के खाते से पैसे की निकासी कर सकते हो और किसी के बैंक खाते में पैसे भेज भी सकते हो.

Digimail क्या है?

जैसा की हमने आपको पहले भी बताया की यह csc उपभोगताओं के लिए mail service है. जिस तरह gmail में हम किसी को email भेज या receive कर सकते हैं, इससे भी वही करते हैं. बस इसकी खासियत ये है की ये सिर्फ csc vle को ही मिलता है.

मुझे Login ID और Password कैसे मिलेगा?

जब आप इसके लिए आवेदन देंगे तो आपका आवेदन accept हो जाने के बाद अपने जो email address आवेदन करते समय भरा था, उसमे login id, username, और password भेज दिया जायेगा.

CSC Wallet क्या है?

जब आप csc के अंतर्गत किसी सेवा का उपयोग करेंगे तो उसकि फीस आपके वॉलेट से ही काटी जाएगी. जैसे आपने पैन कार्ड के लिए आवेदन दिया तो इसका फीस लगभग 110 रुपया है तो ये पैसे आपके वॉलेट से काटा जायेगा. इसलिए आपको वॉलेट में पैसे डाल कर रखना होगा.

मेरा Login Temperory बंद कर दिया गया है, क्या करें?

आपको इसके customer care से बात करना चाहिए वो आपको बताएँगे की आपका id क्यों बंद किया गया है. और आप इसको चालू कैसे कर पाएंगे.

TEC एग्जाम का फीस कितना है?

इसका फीस 1479 रुपया है. ये आपको ऑनलाइन पे करना होता है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *