Rahul Dravid applied for NCA cheif one more time | राहुल द्रविड़ नहीं बन पाएंगे टीम इंडिया के कोच! अब मिलेगी दूसरी जिम्मेदारी


नई दिल्ली: पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) के क्रिकेट प्रमुख के पद के लिए पुन: आवेदन किया है जिससे नवंबर में टी20 विश्व कप के बाद उनके सीनियर राष्ट्रीय टीम में मुख्य कोच रवि शास्त्री की जगह लेने से जुड़ी अटकलों पर विराम लगेगा. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने द्रविड़ का दो साल का कार्यकाल खत्म होने के बाद आवेदन मंगाए थे. नए संविधान के अनुसार अनुबंध में विस्तार का कोई प्रावधान नहीं है और चयन की प्रक्रिया नए सिरे से शुरू की जाती है.

द्रविड़ नहीं बन पाएंगे भारतीय टीम के कोच

बीसीसीआई के एक सूत्र ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर पीटीआई को बताया, ‘हां, राहुल ने क्रिकेट प्रमुख के पद के लिए पुन: आवेदन किया है. अब वास्तव में सेंटर आफ एक्सीलेंस बने एनसीए का चेहरा बदलने के लिए उसने जो शानदार काम किया है उसे देखते हुए यह समझने के लिए आपको जीनियस होने की जरूरत नहीं है कि वह पद पर बरकरार रह सकता है. अब तक राहुल के अलावा किसी बड़े नाम ने पद के आवेदन नहीं किया है.’

पता चला है कि बीसीसीआई ने आवेदन जमा कराने की तारीख में कुछ दिन का इजाफा करने का फैसला किया है जिससे कि इच्छुक उम्मीदवारों को आवेदन के लिए पर्याप्त समय मिल सके. सूत्र ने कहा, ‘बीसीसीआई पदाधिकारियों ने समयसीमा को 15 अगस्त से कुछ दिन बढ़ाने का फैसला किया है. जब राहुल दौड़ में है तो सभी को पता है कि पद के लिए आवेदन करने का अधिक मतलब नहीं है. यह सिर्फ औपचारिकता की तरह हैं लेकिन हां निष्पक्ष होने के लिए कुछ और दिन दिए गए हैं अगर किसी को लगता है कि वह दावेदारी पेश करना चाहता है तो.’

द्रविड़ के फुल टाइम कोच बनने की थी खबर

श्रीलंका दौरे के बाद द्रविड़ ने भारतीय टीम के साथ पूर्णकालिका भूमिका को लेकर अंदेशा जताया था. उनके आवेदन ने हालांकि पुष्टि होती है कि वह अब भी युवा क्रिकेटरों के साथ काम करके राष्ट्रीय क्रिकेट टीम की मदद करना चाहते हैं. इस बीच चोटों से जूझने वाले वरुण चक्रवर्ती और कमलेश नागरकोटी एक बार फिर एनसीए पहुंच गए हैं. शुभमन गिल भी एनसीए में हैं. कोलकाता नाइट राइडर्स के ये तीनों खिलाड़ी रिहैबिलिटेशन सह फिटनेस परीक्षण से गुजरेंगे और इसी के आधार पर यह तय होगा कि ये इंडियन प्रीमियर लीग में खेल पाएंगे या नहीं.

 





Source link

Leave a Comment