PM Narendra Modi talk to Badminton Star Noida DM Suhas L Yathiraj on Phone after got Silver Medal in Tokyo Paralympics| Tokyo Paralympics: PM Narendra Modi ने Noida के DM Suhas L Yathiraj से फोन पर की बात, सिल्वर जीतने की दी बधाई


नई दिल्ली: टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) में भारत (India) के बैडमिंटन (Badminton) स्टार और नोएडा (Noida) के डीएम सुहास एल यथिराज (Suhas L Yathiraj) ने सिल्वर मेडल (Silver Medal) जीतकर इतिहास रच दिया. इसके बात पीएम नरेंद्र मोदी ने खुद सुहास को मुबारकबाद दी.

पीएम मोदी ने किया ट्वीट

सुहास की इस जीत पर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने भी बधाई दी है. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘सेवा और खेल का अद्भुत संगम, सुहास यथिराज ने अपने शानदार खेल से पूरे देश का ध्यान खुद की तरफ खींचा है. बैडमिंटन में सिल्वर मेडल जीतने पर उनको मुबारकबाद. उनके भविष्य के लिए शुभकामनाएं.’

 

पीएम ने फोन पर दी सुहास को बधाई

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने ट्वीट करने के बाद सुहास एल यथिराज (Suhas L Yathiraj) को फोन करके बधाई और उनके शानदार खेल की सराहना की. सुहास इस बात का यकीन नहीं कर पा रहे थे कि वो देश के प्रधानमंत्री से बात कर रहे हैं.  आइए जानते हैं कि पीएम ने सुहास को फोन पर क्या कहा.

Sushas: नमस्कार सर

PM Modi: सुहास जी, बहुत-बहुत बधाई आपको, आपका अभिनंदन.

Sushas: सर बहुत-बहुत धन्यवाद सर, थैंक्यू वैरी मच सर.

PM Modi: देश का नाम बढ़ाया, कर्नाटक और यूपी दोनों का गौरव बढ़ाया.

यह भी पढ़ें- PHOTOS: हार्दिक पांड्या के पास लग्जरी कार का जबर्दस्त कलेक्शन, कीमत सुनकर उड़ जाएंगे होश

Sushas: धन्यवाद सर, आपने अपने संबोधन में कहा था कि सामने कौन ये ये मत देखना, अपना बेस्ट देना. तो वही सोचकर आए थे और माइंड में भी यही रखे हुए थे. बचपन में कभी सोचा नहीं था कि किसी दिन कलेक्टर बनेंगे या पैरालंपिक में मेडल मिलेगा. भगवान की कृपा रही है और आपका आशीर्वाद रहा है कि यहां तक पहुंचा हूं. जब मैं दिव्यांग हो गया था को सोचा कि भगवान ने मेरे साथ ये क्या कर दिया, लेकिन आज आपसे बात करने का मौका मिला है, तो बहुत ज्यादा गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं.

PM Modi: आपने जो शारिरिक कमी थी, उसे शक्ति में बदल दिया. इसकी का नतीजा है कि देश का प्रधानमंत्री आपको फोन करने के लिए बेकरार होता है. आपका अपना पराक्रम है, अपना कॉन्फिडेंस है. दूसरा दुनिया का नियम है कि जो काफी प्लानिंग करके चलते हैं कि मैं वो बनूंगा, वो ज्यादातर लोग पीछे रह जाते हैं, लेकिन जो लगातार काम करते रहते हैं वो कहीं पहुंच जाते हैं. आपने करके दिखाया है, मेरी तरफ से आपको बहुत बधाई है. देश आपका इंतजार कर रहा है.
 

 

Sushas: और सर जब एशियन पैरालंपिक गेम्स में मुझे ब्रॉन्ज मिला था तब आपने एक बात कही थी कि जब आपने जिंदगी की जंग जीत ली तो ये भी जीत ही लोगे, वो बात हमेशा मुझे याद रहती है जो आपने इतनी प्रेरणादायक बात कही थी. तो आज मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि मैं भारत के माननीय प्रधानमंत्री से बात कर रहा हूं. मुझे काफी गर्व महसूस हो रहा है और बहुत अच्छा लग रहा है.

PM Modi: देखिए आप तो मेरे कलीग हैं, सरकार से जुड़ा हर शख्स मेरा सहयोगी है. इसी के नाते मैं आपसे बात कर रहा हूं.

Sushas: सर ये आपका बड़प्पन है

PM Modi: चलिए बहुत शुभकानाएं भइया

Sushas: सर थैंक्यू सो मच, नमस्कार सर

फाइनल मुकाबले में हारे सुहास

 

बैडमिंटन मेंस सिंगल्स एसएल4 (Badminton Mens singles SL4) के फाइनल मुकाबले में सुहास एल यथिराज (Suhas L Yathiraj) ने पहला गेम 21-15 से अपने नाम किया, लेकिन दूसरे गेम में फ्रांस (France) के लुकास माजुर (Lucas Mazur) ने 21-17 से बाजी मारी, फिर तीसरे और आखिरी गेम में यथिराज 15-21 से हार गए जिसकी वजह से वो गोल्ड मेडल जीतने से चूक गए.

 

 

पैरालंपिक में भारत के 18 मेडल

4 गोल्ड, 8 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज के साथ भारत (India) के खाते में अब कुल 18 मेडल आ चुके हैं, जो इस गेम के इतिहास में इस मुल्क का बेस्ट प्रदर्शन है. टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) की मेडल टैली में भारत 26वें नंबर पर पहुंच चुका है. 

 





Source link

Leave a Comment