Mohammed Shami Think of committing suicide 3 times in life due problems with Wife Hasin Jahan and Cricket Career | Mohammed Shami को 3 बार आया खुदकुशी का ख्याल, दुनिया को अलविदा करने का बना चुके थे मन


नई दिल्ली: टीम इंडिया (Team India) के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) क्रिकेट की दुनिया में धमाल मचा रहे हैं, लेकिन एक वक्त ऐसा भी थी जब उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कहने का मन बना लिया था. शमी के लिए ये दौर बेहद मुश्किल था, लेकिन उन्होंने जद्दोजह करना नहीं छोड़ा.

3 बार आया खुदकुशी का ख्याल 

मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने साल 2020 में हैरान करने वाला खुलासा किया. शमी ने बताया था कि उन्होंने अपनी ज़िंदगी में 3 बार खुदकुशी करने इरादा किया क्योंकि वो कई परेशानियों का एक साथ सामना कर रहे थे. पत्नी हसीन (Hasin Jahan) और उनके रिश्ते में दरार आ चुकी थी. उन्हें अपनी बेटी की भी फिक्र हो रही थी.

रोहित के सामने छलका शमी का दर्द

मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के साथ इंस्टाग्राम चैट के दौरान कहा,  ‘मैं 2015 वर्ल्ड कप में ज़ख्मी हो गया था. इसके बाद मुझे टीम में वापसी करने में 18 महीने लगे और वह मेरी ज़िंदगी का सबसे मुश्किल दौरा था.’ उन्होंने कहा, ‘आप जानते हैं कि रिहैब कितना मुश्किल होता है.’

 

 

 

पर्सनल लाइफ में आई दिक्कतें

मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने आगे कहा,  ‘उसके बाद पारिवारिक मसले भी सामने आए थे फिर आईपीएल से करीब 10-12 दिन पहले मेरा एक्सीडेंट हो गया था. मीडिया में काफी कुछ चल रहा था मेरी पर्सनल लाइफ को लेकर भी.’ शमी ने बताया कि वो इन सब चीज़ों से लड़ने में इसलिए कामयाब हुए क्योंकि उनको उनके परिवार का पूरा साथ मिला था. 
 

मुश्किल दौर से गुजरे शमी

मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने कहा, ‘मुझे लगता है कि अगर मुझे मेरे परिवार का साथ नहीं मिलता तो मैं क्रिकेट छोड़ देता. मैंने 3 बार खुदकुशी करने के बारे में सोचा था. मेरे परिवार में से किसी को मुझ पर नजर रखने के लिए मेरे पास बैठना होता था. मेरा घर 24वीं मंजिल पर था और उन्हें लगता था कि मैं कहीं अपार्टमेंट से कूद न जाऊं.

शमी को मिला परिवार का साथ

मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने आखिर में कहा कि जब आपके साथ आपका परिवार हो तो आप किसी भी हालत से पार पा सकते हो. उन्होंने बताया कि अगर उस वक्त मेरा परिवार मेरे साथ नहीं होता तो मैं कोई बुरा कदम उठा चुका होता और मैं उनका शुक्रिया अदा करता हूं कि वो मेरे साथ थे.





Source link

Leave a Comment