Mohammad Yousuf claims that post accepting Islam record become better, Saeed Anwar, Tablighi Jamaat, Yousuf Youhana, Pakistan| इस क्रिकेटर का दावा, ‘इस्लाम कबूल करने के बाद बदल गई किस्मत, तोड़ डाला ये बड़ा रिकॉर्ड’


नई दिल्ली: पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद यूसुफ (Mohammad Yousuf) ने 2006 के कैलेंडर ईयर में बेहतरीन प्रदर्शन किया था, लेकिन उन्होंने इसका श्रेय अपनी बल्लेबाजी से ज्यादा श्रेय धर्म परिवर्तन को दिया. उन्होंने साल 2005 में इस्लाम (Islam) कुबूल कर लिया था.

PAK टीम के चौथे क्रिश्चियन क्रिकेटर

मोहम्मद यूसुफ (Mohammad Yousuf) ने साल 1998 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था, तब वो यूसुफ योहाना (Yousuf Youhana) के नाम से जाने जाते थे. वो वॉलिस मैथीयाज (Wallis Mathias), एंटाओ डिसूजा (Antao D’Souza) और डंकन शार्प (Duncan Sharpe) के बाद पाकिस्तान (Pakistan) टीम की तरफ से खेलना वाले चौथे ईसाई क्रिकेटर बने थे.

यह भी पढ़ें- कोहली के इस पार्टनर का टूट जाएगा ख्वाब? नहीं मिलेगा टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में मौका!

पाक टीम के पहले ईसाई कप्तान

यूसुफ ने साल 2004 में पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) की कमान संभाली, तब वो इस नेशनल टीम की कप्तानी करने वाले पहले गैर मुस्लिम खिलाड़ी बने थे. यूसुफ ने बताया कि वो अकसर तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) के सेशन अटैंड करते थे, जिसके बाद उन्होंने धर्म परिवर्तन जैसा बड़ा फैसला लिया.
 


मोहम्मद यूसुफ (Reuters)

इंटरव्यू में यूसुफ खोले राज

विजडन (Wisden) को दिए गए इंटरव्यू में मोहम्मद यूसुफ (Mohammad Yousuf) ने माना था कि वह अपने साथी क्रिकेटर  और पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व सलामी बल्लेबाज सईद अनवर (Saeed Anwar) से प्रभावित थे जो साल 2001 में अपनी बेटी बिस्माह (Bismah) की मौत के बाद काफी ज्यादा धार्मिक हो गए थे.


मोहम्मद यूसुफ, सईद अनवर और वसीम अकरम (फाइल फोटो)

 

 

रुट तोड़ सकते हैं यूसुफ का रिकॉर्ड

मोहम्मद यूसुफ (Mohammad Yousuf) का ये रिकॉर्ड आज भी बरकरार है, उनका मानना है कि ये इस्लाम कबूल करने का करिश्मा है. हालांकि इंग्लैंड के जो रूट (Joe Root) इस साल ये रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं. रूट ने बीते गुरुवार तक मौजूदा कैलेंडर ईयर में 1519 रन बनाया है, उनके पास ये रिकॉर्ड तोड़ने का मौका है.
 

इस्लाम अपनाने के बाद बनाया रिकॉर्ड

यूसुफ ने इस्लाम (Islam) कबूल करने के बाद टीम इंडिया (Team India) के खिलाफ 173 रन की पारी खेली. इसके बाद 2006 में उन्होंने इंग्लैंड दौरे (England Tour) पर बेहतरीन प्रदर्शन किया और एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन बनाने के विवियन रिचर्ड्स (1,710) के रिकॉर्ड को तोड़ा. 2006 में उन्होंने 1,788 रन बनाए.
 

मोहम्मद यूसुफ का करियर

मोहम्मद यूसुफ (Mohammad Yousuf) ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) की तरफ से 90 टेस्ट मैचों में 52.29 के औसत से 7530 रन बनाए, जिसमें 24 शतक और 33 अर्धशतक शामिल हैं. 288 वनडे इंटरनेशनल मुकाबलों में उन्होंने 9,720 रन बनाए हैं.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *