IPL will get two new teams Today 2 names are at the forefront of the race Lucknow Ahmedabad Guwahati Ranchi | आज IPL के लिए बड़ा दिन, मिलेंगी 2 नई टीमें; रेस में ये नाम सबसे आगे


दुबई: अब तक हमने आईपीएल में 8 टीमों को ही खेलते हुए देखा है लेकिन 2022 में सभी भारतवासी आईपीएल में 10 टीमों को खेलते हुए देखेंगे. जिसके लिए प्रकिया आज से शुरू हो गई है. जब आईपीएल में 10 टीमें खेलेंगी तो ऐसे में दुनिया की सबसे बड़ी टी-20 क्रिकेट लीग का मजा दोगुना हो जाएगा. आईपीएल को लेकर देश और दुनिया में बहुत ज्यादा क्रेज है. जब आईपीएल में 10 टीम होंगी तो भारतीय खिलाडियों को ज्यादा मौका मिलेगा. 

टीमें खरीदने में ये ग्रुप सबसे आगे

आईपीएल 2022 में आठ टीमों के अलावा दो नई टीमें भी खेलती हुई दिखाई देंगी. इसके लिए बोली प्रक्रिया आज दुबई में सुबह 11 बजे शुरू हो चुकी है. इसमें करीब 20 से ज्यादा कंपनियां  टेंडर डाला है. फाइनल बोली के लिए पांच से छह पार्टियों को चुना जाएगा. नई टीम खरीदने की रेस में सबसे आगे अडाणी ग्रुप, गोयनका ग्रुप और सीवीसी वेंचर्स हैं. विदेशी क्लबो ने भी आईपीएल में टीम खरीदने के लिए टेंडर डाला है. 

लखनउ और अहमदाबाद सबसे आगे 

आईपीएल की दो नई टीमों के लिए लखनऊ और अहमदाबाद के नाम तो काफी पहले से ही चर्चा में थे. लेकिन इन दो के अलावा गुवाहटी, रॉची, कटक और धर्मशाला भी दावेदारों की लिस्‍ट में शामिल हैं. खबर है कि इन छह में से ही कोई दो नई टीमें आईपीएल में शामिल हो सकती हैं. नई टीमों के लिए जो होम ग्राउंड होंगे उनमें अहमदाबाद, लखनऊ और पुणे भी शामिल हैं. अहमदाबाद का नरेंद्र मोदी स्टेडियम और लखनऊ का इकाना स्टेडियम फ्रेंचाइजी की पसंद हो सकते हैं क्योंकि इन स्टेडियमों में ज्यादा लोग बैठ सकते हैं. 

BCCI अगले साल करेगा मेगा नीलामी 

नई फ्रेंचाइजी को लेने के बारे में अंतिम निर्णय लेने से पहले बोली की प्रक्रिया होगी. बीसीसीआई अगले साल मेगा नीलामी की तैयारी कर रहा है. इसमें तीन रिटेंशन होंगे और दो राइट टू मैच कार्ड खिलाड़ी होंगे. अन्य सभी खिलाड़ियों को नीलामी में उतारा जाएगा. अगर दो फ्रेंचाइजी को शामिल किया जाता है तो फिर मेगा नीलामी ही कराई जाएगी. बोर्ड ने दो टीमों को खरीदने के लिए ऑक्शन आज रखेगा देखते हैं. किस टीम के नाम पर लगती है मोहर. 

भारतीय खिलाडियो को मिलेंगे ज्यादा मौके 

आईपीएल में 2 टीम बढ़ने से भारतीय खिलाडियों को ज्यादा मौके मिलेंगे. क्योंकि एक टीम में 7 भारतीय और 4 विदेशी खिलाड़ी होने चाहिए. युवा को ज्यादा मौकने मिलेंगे तो वे अच्छा प्रदर्शन कर राष्ट्रीय टीम में भी जगह बना सकते हैं. 





Source link

Leave a Comment