IPL 2021: MS Dhoni keep Suresh Raina Out of CSK Playing XI against DC, Robin Uthappa got chance after long time | IPL इतिहास में सालों बाद हुआ गजब, MS Dhoni ने अपने फेवरेट प्लेयर को दिखाया बाहर का रास्ता


नई दिल्ली: दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के खिलाफ मैच में एमएस धोनी (MS Dhoni) ने चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) की प्लेइंग इलेवन से एक ऐसे प्लेयर को बाहर का रास्ता दिखाया जो ‘येलो आर्मी’ (Yellow Army) का अहम मेंबर रहा है और उसने टूर्नामेंट में काफी करिश्मे किए हैं. 

‘मिस्टर आईपीएल’ की छुट्टी

हम बात कर रहे हैं ‘मिस्टर आईपीएल’ के नाम से मशहूर खिलाड़ी सुरेश रैना (Suresh Raina) की जिन्हें 4 अक्टूबर को मायूसी का सामना करना पड़ा क्योंकि दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम (Dubai International Stadium) में हुए मुकाबले में वो मैदान में अपनी परफॉरमेंस देने नहीं आ सके.

 

 

शानदार है रैना का IPL रिकॉर्ड

सुरेश रैना (Suresh Raina) का आईपीएल रिकॉर्ड बेहतरीन रहा है. इस मेगा टी-20 लीग में उन्होंने 205 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 32.51 की औसत और 136.76 की स्ट्राइक रेट से 5528 रन बनाए हैं. टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में वो दूसरे नंबर पर हैं.

यह भी पढ़ें- IPL 2021: प्लेऑफ के लिए इन टीमों के बीच होगी कांटे की टक्कर, टॉप-4 में ऐसे मिलेगी एंट्री

धोनी ने रैना को क्यों किया बाहर?

सुरेश रैना (Suresh Raina) के लिए मौजूदा सीजन फ्लॉप रहा रहा. उन्होंने 12 मुकाबलों में 17.77 की औसत और 125.00 की स्ट्राइक रेट से महज 160, हालांकि उन्होंने इस साल एक फिफ्टी भी बनाई है, लेकिन उनकी परफॉरमेंस कंसिस्टेंट नहीं रही है. यही वजह है कि धोनी के फेवरेट प्लेयर होने बावजूद उन्हें प्लेइंग इलेवन से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया.

इस प्लेयर ने काटा रैना का पत्ता

‘कैप्टन कूल’ (Captain Cool) एमएस धोनी (MS Dhoni) ने चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) की प्लेइंग इलेवन (Playing XI) में सुरेश रैना (Suresh Raina) की जगह रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) को मौका दिया, जिसका कई फैंस बेसब्री से इंतजार कर रहे थे.

 

उथप्पा का बेहतरीन IPL रिकॉर्ड

रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) इससे पहले कुल 190 आईपीएल मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 27.92 की औसत 129.99 की स्ट्राइक रेट से 4607 रन बनाए. उनके नाम अब तक 24 अर्धशतक हैं. इतना शानदार रिकॉर्ड होने के बावजूद उन्हें प्लेइंग XI में जगह नहीं मिल पा रही थी और इसकी एक ही वजह थी और वो है सुरेश रैना को लगातार मौका दिया जाना.

 

 





Source link

Leave a Comment