IND vs ENG: Dinesh Karthik gave a big statement on Mohammed Siraj after he fights with Jonny Bairstow |IND vs ENG: Dinesh Kartik ने की सिराज की कड़ी आलोचना, बेयरेस्टो को बीच मैदान पर किया था ‘Shut Up’


नई दिल्ली: भारत और इंग्लैंड के बीच 5 मैच की सीरीज के पहले टेस्ट मैच के दौरान पहले टेस्ट मैच के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) और इंग्लैंड के स्टार बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) के बीच मैदान पर झड़प हुई थी. सिराज ने इस मैच में बेयरस्टो को आउट करने के बाद काफी अलग अंदाज में जश्न मनाया था. अब भारत के एक दिग्गज खिलाड़ी ने सिराज की आलोचना की है. 

सिराज पर भड़का ये दिग्गज

भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Kartik) को लगता है कि मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) का पहले टेस्ट में इंग्लैंड के बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो को आउट करने के बाद ‘चुप होने’ का इशारा करना गैर जरूरी था. उनका हालांकि मानना है कि यह भारतीय तेज गेंदबाज अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में आगे इन चीजों को समझ जाएगा. बेयरस्टो को आउट करने के बाद सिराज अपने जश्न मनाने के दौरान आक्रामक थे और उनका इस ड्रॉ हुए टेस्ट में कई बार इस बल्लेबाज से शब्दों का आदान प्रदान भी हुआ. 

‘बेयरस्टो से भिड़ना था गलत’

कार्तिक सीरीज के दौरान कमेंटरी की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं, उन्होंने ‘द टेलीग्राफ’ में लिखा, ‘मुझे यह लगता है कि सिराज ने जब बल्लेबाज को आउट करने के बाद चुप रहने का इशारा किया तो यह अनावश्यक था. आप पहले ही आउट कर चुके हो तो इसकी जरूरत क्यों? सिराज के अंतरराष्ट्रीय करियर में यही पहली सीख है. हममें से कितनों ने यह सोचा होगा कि विराट कोहली आकर टीम के उत्साहित साथी को शांत करायेंगे? लेकिन भारतीय कप्तान को ट्रेंट ब्रिज पर सुनिश्चित करना पड़ा कि सिराज हद से आगे नहीं बढ़े.’

कार्तिक ने कहा, ‘इस टीम ने जिस तरह का क्रिकेट खेला, मुझे यह बहुत पसंद है. खिलाड़ी अपने प्रतिद्वंद्वियों से शाब्दिक बहस में उलझने में झिझकते नहीं हैं जैसा सिराज और केएल राहुल ने किया. यह नए जमाने का भारत है.’ कार्तिक अगले महीने इंडियन प्रीमियर लीग में कोलकाता नाइट राउडर्स के लिए खेलेंगे, उन्होंने कहा कि आक्रामक होने के विभिन्न तरीके हैं.

आक्रमकता के भी कई तरीके- कार्तिक 

कार्तिक ने कहा, ‘आक्रामकता विभिन्न तरीकों से दिखाई जाती है. कुछ खिलाड़ी जैसे विराट, सिराज और राहुल के लिए यह खुलम खुल्ला आपको मुंह पर जवाब देकर हो सकती है. लेकिन मैंने सीनियर बल्लेबाज रोहित शर्मा, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे को इसी तरह से आक्रामक होते हुए नहीं देखा लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वे आक्रामक नहीं है.’





Source link

Leave a Comment