Deepak Punia coach Morad Gaidrov attack match referee after punia lost bronze medal in tokyo olympics | Tokyo Olympics: ब्रॉन्ज का मैच हारने के बाद Deepak Punia के कोच Morad Gaidrov ने मैच रेफरी पर किया हमला, मचा बवाल


नई दिल्ली: टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पहलवान दीपक पूनिया (Deepak Punia) का सपना टूट गया है. जब दीपक पुनिया को पुरुष फ्रीस्टाइल 86 किग्रा भार वर्ग के कांस्य पदक मुकाबले में सैन मरिनो के माइल्स अमीन के हाथों 2-4 से हार का सामना करना पड़ा. लेकिन उसके बाद जो हुआ उसने सबको हैरानी में डाल दिया है.

दरअसल दीपक पुनिया की हार के बाद उनके विदेशी कोच मोराड गेड्रोव (Morad Gaidrov) ने मैच के बाद रेफरी पर हमला कर दिया.  

पुनिया के कोच ने किया मैच रेफरी पर हमला

दीपक पूनिया (Deepak Punia) के मैच के बाद उनके कोच मोराड गेड्रोव मैच (Morad Gaidrov) रेफरी के कमरे में गए और उन पर हमला कर दिया. जिसके बाद विश्व कुश्ती निकाय (FILA) ने IOC और भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) को इसकी जानकारी दी गई.  कोच मोराड गेड्रोव पर इसके बाद कार्रवाई की गई और उन्हें माफी मांगने के बाद चेतावनी देकर छोड़ दिया. बताया गया है कि भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) ने उन्हें टर्मिनेट कर दिया.  

FILA ने IOC से मांग की है कि मोराड गेड्रोव (Morad Gaidrov) पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए. बता दें कि गेड्रोव ने पहले  2004 के एथेंस ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल में हार के बाद अपने विराधी पर हमला किया था.  

ब्रॉन्ज मेडल मैच में हारे थे दीपक पूनिया 

दीपक को बुधवार को सेमीफाइनल मुकाबले में अमेरिका के डेविड टेलर के हाथों हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन दीपक से कांस्य पदक जीतने की उम्मीद थी. हालांकि, इस हार के साथ ही उनसे कांस्य लाने की उम्मीद भी टूट गई. कांस्य पदक के मुकाबले में दीपक ने पहले पीरियड में शुरूआती दो अंक जुटाए लेकिन अमीन ने भी एक अंक हासिल किया. इसके साथ ही दीपक पहले पीरियड में अमीन पर भारी रहे और उन्होंने 2-1 की बढ़त ली.

दूसरे पीरियड में अमीन ने वापसी कर दो अंक जुटाकर 3-2 की बढ़त बनाई. इसके बाद उन्होंने फिर दीपक को चित्त कर एक अंक बटोरा और 4-2 की बढ़त लेकर मुकाबले को जीत कांस्य पदक हासिल किया. दीपक अपनी शुरूआती बढ़त को बरकरार नहीं रख सके और उनका टोक्यो ओलंपिक में सफर यहीं समाप्त हो गया.

 





Source link

Leave a Comment