CM Shivraj Singh Chouhan Regarding pm housing and manrega scheme warned officials about mpap | एक्शन में सीएम शिवराज बोले-मनरेगा-पीएम आवास में गड़बड़ी करने वालों को छोडूंगा नहीं


भोपालः मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज प्रदेश के सभी कलेक्टर्स और कमिश्नर के साथ कॉन्फ्रेंस के जरिए बैठक की. इस दौरान उन्होंने कलेक्टर-कमिश्नर को कई अहम निर्देश दिए. सीएम शिवराज पीएम आवास योजना और मनरेगा को लेकर सख्त नजर आए. उन्होंने कहा कि उनके पास बहुत शिकायत पहुंच रही हैं. 

मैं जमीन पर देख रहा हूं
सीएम शिवराज ने अधिकारियों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि ”मैं जमीन पर देख रहा हूं, मनरेगा में गड़बड़ी की बहुत शिकायतें आ रही हैं, मुझे इसे खत्म करना है. मेरे पास यह शिकायतें आई है, मैंने से गंभीरता से लिया है. गरीबों का पैसा कहीं नहीं जाना चाहिए. ऐसे लोगों पर गिद्धदृष्टि रखिये. कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ इस बात का विशेष ध्यान रखें. ”

मुख्यमंत्री ने कहा कि कमिश्नर्स, कलेक्टर्स, आईजी, डीआईजी कॉन्फ्रेंस में सीएम शिवराज ने कहा कि ”मैं अब घूम रहा हूं, यह सब जगह पूछूंगा. गड़बड़ करने वालों को बिल्कुल न छोड़ें, उसे ठीक करो. हर जिले की रिपोर्ट मुझे चाहिए, जिसे ठीक करना होगा, हम ठीक करेंगे”

हितग्राहियों को मिले पूरा लाभ
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि करप्शन के मामले में हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है. भ्रष्टाचार करने वालों को हम नहीं छोड़ेंगे. आप नोट कर लीजिए- पात्र हितग्राही लाभ से वंचित नहीं होना चाहिए. आप सब पर्सनली देखें. सुराज का मतलब है बिना लिए-दिए पात्र हितग्राहियों को लाभ मिले. सीएम ने कहा कि कोविड और वैक्सीनेशन में जनभागीदारी ने बड़ी भूमिका निभाई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसकी सराहना की है. अब इसे मैं सरकार की कार्यप्रणाली का अंग बनाना चाहता हूं जनता को जोड़कर काम करो तो गति बढ़ जाती है. बड़े कार्यों की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी कलेक्टर की है. अटल प्रोग्रेस वे को अब अटल प्रगति पथ के नाम से जाना जाएगा. अटल प्रगतिपथ के निर्माण के लिए तेजी से सभी व्यवस्थाएं कर लें. मुख्यमंत्री ने अनूपपुर और शहडोल जिले के पुलिस विभाग की प्रशंसा की.

वैक्सीनेशन में तेजी लाए, डेंगू से करें बचाव 
इस दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान डेंगू और वैक्सीनेशन को लेकर भी सख्त नजर आए. सीएम ने कहा कि कि डेंगू और कोरोना को लेकर सभी सावधानियों का पालन करें. पानी को कहीं रुकने न दें और स्वच्छता रखें, ऐसी जागरुकता हमें फैलानी है. 27 सितंबर तक पहले डोज का 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य पूरा करना है. दिसंबर तक हमें दोनों डोज का 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य पूरा करना है. जनजातीय भाई-बहनों के लिए राशन आपके द्वार, पेसा कानून के अंतर्गत वनों का प्रबंधन और अनेक हितकारी योजनाएं हैं, इनका क्रियान्वयन ठीक से होना चाहिये. गरीब का हक नहीं मारा जाना चाहिए.

ये भी पढ़ेंः ब्यूरोक्रेसी वाले बयान पर उमा भारती ने ट्वीट कर दी सफाई, कहा- मुझे रंज है कि ऐसी भाषा का प्रयोग किया

WATCH LIVE TV





Source link

Leave a Comment