Bhavina Patel creates history as she becomes first Indian Table Tennis player to secure medal in Paralympics


टोक्यो: टोक्यो में चल रहे पैरालम्पिक ओलंपिक में भारत की भाविना पटेल (Bhavina Patel) ने कमाल कर दिया. भाविना ने महिला टेबल टेनिस एकल क्लास 4 के सेमीफाइनल में पहुंचने के साथ ही देश के लिए पदक सुनिश्चित कर लिया. 

पैरालम्पिक ओलंपिक में भारत का मेडल पक्का

अहमदाबाद की 34 वर्षीय भाविना (Bhavina Patel) ने 2016 रियो पैरालम्पिक की स्वर्ण पदक विजेता सर्बिया की बोरिसलावा पेरिच रांकोविच को सीधे गेमों में 3-0 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया. भाविना ने 19 मिनट तक चले मुकाबले में रांकोविच को 11-5,11-6, 11-7 से हराया.

भाविना पहली भारतीय महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं जिन्होंने पैरालम्पिक खेलों के सेमीफाइनल में जगह बनाई है. सेमीफाइनल में भाविना का सामना शनिवार को चीन की झांग मिआ से होगा.

 

भाविना ने सेमीफाइनल में ली एंट्री

भाविना (Bhavina Patel) को ग्रुप ए के मुकाबले में चीन की झोउ यिंग के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. इस हार के बाद उन्होंने बेहतरीन तरीके से वापसी की और दो नॉकआउट मुकाबले जीतकर पदक पक्का किया.

भाविना (Bhavina Patel) ने इससे पहले राउंड-16 में 23 मिनट तक चले मुकाबले में ब्राजील की जिओसी डी ओलिविएरिआ को 12-10, 13-11, 11-6 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी.

बता दें कि टोक्यो पैरालम्पिक टेबल टेनिस में कांस्य पदक प्ले-ऑफ मुकाबला नहीं होगा और सेमीफाइनल में हारने वाले दोनों खिलाड़ियों को कांस्य पदक मिलेगा.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *