सहवाग को इस शख्स ने जड़ दिया था थप्पड़, तो गांगुली ने आपा खोकर उठाया ये बड़ा कदम


नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के इतिहास में एक बार ऐसा विवाद देखने को मिला, जिसे कोई भी याद नहीं करना चाहेगा. दरअसल, टीम इंडिया के विस्फोटक ओपनर रहे वीरेंद्र सहवाग को एक बार एक शख्स ने थप्पड़ जड़ दिया था. इस घटना में तुरंत बाद बड़ा बवाल मच गया था और उस समय के कप्तान सौरव गांगुली बहुत नाराज हुए थे. सौरव गांगुली ने सहवाग को थप्पड़ लगने के बाद अपना आपा खो दिया था.  

सहवाग को इस शख्स ने जड़ दिया था थप्पड़

बीसीसीआई के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने साल 2013 में एक कार्यक्रम के दौरान इस बात का खुलासा किया था. दरअसल, साल 2002 में भारत के इंग्लैंड दौरे पर वनडे सीरीज के दौरान टीम इंडिया के तत्कालीन कोच जॉन राइट सहवाग की बल्लेबाजी को लेकर बेहद नाराज थे. सहवाग लगातार असफल हो रहे थे. वह कुछ गेंद में ही आउट हो जाते थे. एक दिन जॉन राइट को इतना गुस्सा आया कि उन्होंने सहवाग को थप्पड़ जड़ दिया. 

बुरी तरह से भड़क गए गांगुली

जब गांगुली को पता चला कि सहवाग को राइट ने थप्पड़ मारा है तो वह बुरी तरह से भड़क गए, उस वक्त राजीव शुक्ला टीम के मैनेजर थे. गांगुली ने शुक्ला से कहा कि जॉन को माफी मांगनी होगी. शुक्ला ने गांगुली से कहा कि वह इस मुद्दे पर जॉन राइट से बात करेंगे. जॉन राइट ड्रेसिंग रूम के बाहर सिगरेट पी रहे थे. उसी वक्त शुक्ला ने सहवाग को थप्पड़ मारने की बात उठाई. 

ड्रेसिंग रूम में मचा बवाल 

जॉन ने उनसे कहा कि उन्होंने बतौर टीचर सहवाग पर गुस्सा उतारा है. जॉन ने अपनी ‘सफाई’ में कहा, ‘मैंने केवल धक्का दिया है, थप्पड़ नहीं मारा है. वह बार-बार एक ही गलती दोहरा रहा था. मुझे उसकी गलती बर्दाश्त नहीं हो रही थी.’ लेकिन सौरव गांगुली अड़ गए कि जॉन राइट को हर हाल में माफी मांगनी होगी. दूसरी तरफ सचिन तेंदुलकर की राय कुछ और थी. 

सचिन ने संभाली बात 

राजीव शुक्ला ने कहा कि सचिन मुझे किनारे ले गए और कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए जॉन राइट से माफी नहीं मंगवानी चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं सचिन की सलाह समझ गया कि कोच ही माफी मांगेगा तो आगे क्या होगा. इसके बाद राजीव शुक्ला ने सहवाग को समझाया. सहवाग समझ गए और उन्होंने कहा कि जॉन को माफी मांगने की कोई जरूरत नहीं है.





Source link

Leave a Comment