शार्दुल ठाकुर ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को नचाया गजब का नाच, टेस्ट मैच में दिखाया टी20 जैसा तूफान


नई दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के क्रिकेटर शार्दुल ठाकुर ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को ऐसा नाच नचाया, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की थी. टेस्ट मैच में शार्दुल ठाकुर ने टी20 जैसा तूफान दिखाया. शार्दुल ठाकुर की इस कमाल की बैटिंग से तो अब हार्दिक पांड्या की जगह भी मुश्किल में है और उनका टीम इंडिया से पत्ता कट सकता है.

शार्दुल ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को नचाया गजब का नाच

शार्दुल ठाकुर ने जिस तरह अपनी तूफानी बैटिंग से इंग्लैंड के गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाई, वैसा तो ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा और कप्तान विराट कोहली भी नहीं कर पाए. शार्दुल ठाकुर ने ओवल में खेले जा रहे चौथे टेस्ट मैच में 35 गेंदों में 57 रनों की पारी खेली. शार्दुल ने अपनी पारी में 7 चौके और 3 छक्के लगाए. शार्दुल ठाकुर का कमाल देखकर खुद कप्तान विराट कोहली भी हैरान रह गए.

टेस्ट मैच में दिखाया टी20 जैसा तूफान

बता दें कि ये शार्दुल ठाकुर के टेस्ट करियर का दूसरा अर्धशतक था, जो उन्होंने महज 31 गेंदों में पूरा किया. शार्दुल टेस्ट मैचों में भारत के लिए दूसरा सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. इस लिस्ट में भारत के पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन कप्तान कपिल देव टॉप पर हैं. कपिल देव ने 1982 में पाकिस्तान के खिलाफ 30 गेंदों में अर्धशतक जड़ा था. शार्दुल ने पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग का रिकॉर्ड तोड़ा है. सहवाग ने 2008 में चेन्नई में 32 गेंदों में अर्धशतक जड़ा था.

टेस्ट में भारत के लिए सबसे तेज अर्धशतक

कपिल देव – 30 गेंदों पर 50 रन, विरुद्ध पाकिस्तान, 1982
शार्दुल ठाकुर – 31 गेंदों पर 50 रन, विरुद्ध इंग्लैंड, 2021
वीरेंद्र सहवाग – 32 गेंदों पर 50 रन, विरुद्ध इंग्लैंड, 2008

भारत को मैच में खड़ा कर दिया

शार्दुल ठाकुर की पारी ने भारत को एक ऐसे मैच में खड़ा कर दिया, जिसमें गेंद डगमगाती रहेगी. जिस किसी ने भी ठाकुर को इस साल की शुरुआत में ब्रिस्बेन में 67 रनों की पारी खेलते देखा होगा, उन्होंने महसूस किया होगा कि उनमें तूफानी बैटिंग की क्षमता है. टेस्ट मैचों में सबसे तेज अर्धशतक जड़ने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के मिस्बाह-उल-हक के नाम है. उन्होंने 2014 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 21 गेंदों में अर्धशतक जड़ा था. शार्दुल जब बल्लेबाजी करने उतरे थे तब टीम इंडिया का स्कोर 6 विकेट के नुकसान पर 117 रन था. उन्होंने 8वें विकेट के लिए उमेश यादव के साथ 63 रनों की साझेदारी की. शार्दुल की बल्लेबाजी के कारण टीम इंडिया 200 के स्कोर के करीब पहुंच पाई. उसकी पहली पारी 191 रनों पर सिमट गई.





Source link

Leave a Comment