लॉर्ड्स में गरजे कोहली, बताया- इंग्लैंड की इस हरकत ने हमारे अंदर जीत की आग को भड़काया| Hindi News


लंदन: टीम इंडिया ने सोमवार को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 151 रनों से हराकर 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली. लॉर्ड्स में इस धमाकेदार जीत के बाद टीम इंडिया ने इंग्लैंड टीम का घमंड चकनाचूर कर दिया. कप्तान विराट कोहली ने माना कि इंग्लैंड टीम की एक हरकत ने हमारे अंदर जीत की आग को भड़काया.

कोहली ने बताया किस बात से नाराज थे खिलाड़ी 

बता दें कि इस टेस्ट मैच में भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ी एक-दूसरे से भिड़ते नजर आए. क्रिकेट के अलावा भी मैदान पर स्लेजिंग का खेल खेला जा रहा था. टेस्ट मैच के पांचवें दिन इंग्लैंड के खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह के शरीर को टारगेट करते हुए खतरनाक बाउंसर गेंदों से हमला कर रहे थे. बुमराह को दो बार गेंद सिर पर लगी. कोहली ये घटना लॉर्ड्स की बालकनी में बैठे हुए देख रहे थे. कोहली इससे काफी गुस्से में नजर आए.

इंग्लैंड की इस हरकत ने जीत की आग को भड़काया

इस घटना ने पूरे माहौल को गर्म कर दिया और टीम इंडिया के अंदर जीत की आग को भड़का दिया. शमी (70 गेंदों पर नाबाद 56) और बुमराह (64 गेंदों पर नाबाद 34) ने 9वें विकेट के लिए 89 रनों की पार्टनरशिप कर इंग्लैंड को मैच से बाहर कर दिया. कोहली ने कहा, ‘मैदान पर इस तनाव ने वास्तव में हमें जीत और जल्दी खेल खत्म करने के लिए प्रेरित किया.’ इसके बाद भारत ने इंग्लैंड को 60 ओवरों में 272 रनों का टारगेट दिया. सिराज, बुमराह, शमी और इशांत ने मिलकर इंग्लैंड को 120 रनों पर ढेर कर भारत को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर जीत दिला दी. 

शमी और बुमराह ने दिखाया रौद्र रूप 

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे पूरी टीम पर गर्व है. पिच से पहले तीन दिन गेंदबाजों को मदद नहीं मिली, लेकिन हमने अपनी रणनीति अच्छी तरह से लागू की. दूसरी पारी में मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ने जिस तरह से दबाव की परिस्थितियों में बल्लेबाजी की वह बेजोड़ था. यहीं से माहौल बना जिससे हमें आगे मदद मिली.’

ऐसे पलट दी हारी हुई बाजी 

कोहली ने कहा, ‘निचले क्रम के बल्लेबाजों को ऐसी साझेदारी करने के अधिक मौके नहीं मिलते और जब भी हम सफल रहे हैं तब हमारे निचले क्रम ने अपना योगदान दिया.’ कोहली ने कहा कि टीम समझती थी कि 60 ओवर में 272 रन बनाना मुश्किल होगा लेकिन 10 विकेट लिए जा सकते हैं.

लॉर्ड्स में गरजे भारत के शेर 

कोहली ने कहा, ‘हम जानते थे कि हम 10 विकेट ले सकते हैं. मैदान पर थोड़े तनाव ने हमें प्रेरित किया. हम शमी और बुमराह का हौसला बढ़ाना चाहते थे और इसलिए हमने उन्हें नयी गेंद सौंपी. उन्होंने हमें तुरंत विकेट भी दिलाए.’ भारत की यह लार्ड्स में तीसरी जीत है. इससे पहले उसने 2014 में महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में यहां जीत दर्ज की थी. कोहली भी उस टीम का हिस्सा थे.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *