‘बुमराह को देखकर सांड जैसी हरकत करने लगे जो रूट’, इस दिग्गज के बयान से मचा बवाल


नई दिल्ली: भारत के हाथों लॉर्ड्स टेस्ट में 151 रनों से बुरी तरह हारने के बाद इंग्लैंड की टीम बौखलाई हुई है. बता दें कि लॉर्ड्स में दूसरे टेस्ट मैच के दौरान क्रिकेट के अलावा भी मैदान पर स्लेजिंग का खेल खेला गया था. भारत और इंग्लैंड के ज्यादातर खिलाड़ी एकदूसरे से उलझते नजर आए. टेस्ट मैच के पांचवें दिन इंग्लैंड के तेज गेंदबाज मार्क वुड कप्तान जो रूट के कहने पर जसप्रीत बुमराह के शरीर को टारगेट करते हुए खतरनाक बाउंसर गेंदों से हमला कर रहे थे. बुमराह को दो बार गेंद सिर पर लगी. इसके बाद इंग्लैंड के विकेटकीपर जोस बटलर भी जसप्रीत बुमराह को भला बुरा कह रहे थे. 

इस दिग्गज ने जो रूट को बताया सांड 

इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर ज्योफ्री बॉयकॉट ने कहा, ‘जसप्रीत बुमराह को क्रीज पर बैटिंग करता देखकर जो रूट ऐसी हरकत करने लगे, जैसे सांड लाल कपड़े को देखकर करता है. रूट ने मार्क वुड को कहा कि वह बुमराह पर तेज शॉर्ट पिच गेंदों से प्रहार करे. इंग्लैंड के कप्तान और उसके कुछ खिलाड़ी बुमराह से बदला लेने के चक्कर में इमोशनल हो गए और अपना फोकस हटा बैठे.’ 

इंग्लैंड ने मैच हारने की शुरुआत कर दी

ज्योफ्री बॉयकॉट ने कहा, ‘बुमराह ने जिस तरह पहली पारी में एंडरसन पर बाउंसर गेंदों से हमला किया, ठीक उसी तरह 
इमोशनल होकर इंग्लैंड ने भी वैसा करना चाहा और वह टेस्ट मैच हारने की शुरुआत कर चुके थे. यह बेवकूफी जैसा था. खेल शुरू होते समय इंग्लैंड की टीम जीत की दावेदार थी. मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि इंग्लैंड का प्रदर्शन इतना बुरा रहा, लेकिन भारत को बधाई.’

इंग्लैंड की इस बात से नाराज थे भारत के खिलाड़ी 

बता दें कि इस टेस्ट मैच में भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ी एक-दूसरे से भिड़ते नजर आए. क्रिकेट के अलावा भी मैदान पर स्लेजिंग का खेल खेला जा रहा था. टेस्ट मैच के पांचवें दिन इंग्लैंड के खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह के शरीर को टारगेट करते हुए खतरनाक बाउंसर गेंदों से हमला कर रहे थे. बुमराह को दो बार गेंद सिर पर लगी. कोहली ये घटना लॉर्ड्स की बालकनी में बैठे हुए देख रहे थे. कोहली इससे काफी गुस्से में नजर आए.

इंग्लैंड की इस हरकत ने जीत की आग को भड़काया

इस घटना ने पूरे माहौल को गर्म कर दिया और टीम इंडिया के अंदर जीत की आग को भड़का दिया. शमी (70 गेंदों पर नाबाद 56) और बुमराह (64 गेंदों पर नाबाद 34) ने 9वें विकेट के लिए 89 रनों की पार्टनरशिप कर इंग्लैंड को मैच से बाहर कर दिया. कोहली ने कहा, ‘मैदान पर इस तनाव ने वास्तव में हमें जीत और जल्दी खेल खत्म करने के लिए प्रेरित किया.’ इसके बाद भारत ने इंग्लैंड को 60 ओवरों में 272 रनों का टारगेट दिया. सिराज, बुमराह, शमी और इशांत ने मिलकर इंग्लैंड को 120 रनों पर ढेर कर भारत को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर जीत दिला दी. 

शमी और बुमराह ने दिखाया रौद्र रूप 

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे पूरी टीम पर गर्व है. पिच से पहले तीन दिन गेंदबाजों को मदद नहीं मिली, लेकिन हमने अपनी रणनीति अच्छी तरह से लागू की. दूसरी पारी में मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ने जिस तरह से दबाव की परिस्थितियों में बल्लेबाजी की वह बेजोड़ था. यहीं से माहौल बना जिससे हमें आगे मदद मिली.’

ऐसे पलट दी हारी हुई बाजी 

कोहली ने कहा, ‘निचले क्रम के बल्लेबाजों को ऐसी साझेदारी करने के अधिक मौके नहीं मिलते और जब भी हम सफल रहे हैं तब हमारे निचले क्रम ने अपना योगदान दिया.’ कोहली ने कहा कि टीम समझती थी कि 60 ओवर में 272 रन बनाना मुश्किल होगा लेकिन 10 विकेट लिए जा सकते हैं.

लॉर्ड्स में गरजे भारत के शेर 

कोहली ने कहा, ‘हम जानते थे कि हम 10 विकेट ले सकते हैं. मैदान पर थोड़े तनाव ने हमें प्रेरित किया. हम शमी और बुमराह का हौसला बढ़ाना चाहते थे और इसलिए हमने उन्हें नयी गेंद सौंपी. उन्होंने हमें तुरंत विकेट भी दिलाए.’ भारत की यह लार्ड्स में तीसरी जीत है. इससे पहले उसने 2014 में महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई में यहां जीत दर्ज की थी. कोहली भी उस टीम का हिस्सा थे.

धोनी को लेकर ये बोले कोहली 

कोहली ने कहा, ‘मैं 2014 में धोनी भाई के साथ उस टीम का हिस्सा था, लेकिन आज 60 ओवरों में जीत हासिल करना लाजवाब था. मोहम्मद सिराज पहली बार लॉर्ड्स पर खेल रहे थे और उन्होंने शानदार गेंदबाजी की. भारतीय प्रशंसकों के लिए इस जीत से शानदार उपहार कुछ और नहीं हो सकता.’

भारत से हारने पर इंग्लैंड के कप्तान ने दिया ये बयान 

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने कहा कि उनकी टीम परिस्थितियों के अनुसार नहीं खेल पाई, लेकिन साथ ही अगले मैचों में वापसी करने का वादा किया. रूट ने कहा, ‘हम इस तरह की परिस्थितियों का सही तरह से सामना नहीं कर पाए, लेकिन अभी इस सीरीज में काफी क्रिकेट खेली जानी है और हम वापसी करेंगे. कप्तान के तौर पर मैं जिम्मेदारी लेता हूं. हमने गलतियां की, लेकिन जीत का श्रेय उन्हें (भारत) जाता है.’ रूट ने कहा, ‘एक टीम के तौर पर हमने पांच मैचों की सीरीज पहले भी खेली है और हम वापसी कर सकते हैं.’ 

केएल राहुल ने ‘मैन ऑफ द मैच’ बनकर कही ये बात

भारतीय सलामी बल्लेबाज केएल राहुल को उनके पहली पारी के शतक के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. इससे उन्होंने अपना नाम लॉर्ड्स के ऑनर्स बोर्ड पर भी अपना लिखवा दिया है. राहुल ने कहा, ‘मैं उस बोर्ड को रोज देख रहा हूं कि क्या उन्होंने मेरा नाम लिख दिया. पहले बल्लेबाजी करते हुए हमें अच्छी शुरुआत देनी थी. पहली पारी में 350 से अधिक रन बनाना जरूरी था और हमने वही किया. हम आगे भी ऐसा प्रदर्शन जारी रखेंगे.’





Source link

Leave a Comment