धोनी के संन्यास के बाद ही तबाही के करीब पहुंचा इस क्रिकेटर का करियर, कभी था मैच विनर


नई दिल्ली: महेंद्र सिंह धोनी जब भारतीय टीम के लिए क्रिकेट खेलते थे, तो एक खिलाड़ी को सबसे ज्यादा फायदा होता था, लेकिन धोनी के संन्यास लेते ही उस खिलाड़ी का करियर अंधेरे में जा रहा है. उस खिलाड़ी को टीम इंडिया की सबसे मजबूत कड़ी माना जाता था, लेकिन टी20 वर्ल्ड कप 2021 आते-आते ये क्रिकेटर भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर हो गया.

तबाही के करीब पहुंचा इस क्रिकेटर का करियर

विराट कोहली की कप्तानी में इस खिलाड़ी के करियर पर ऐसा ग्रहण लगा कि ये लगातार फ्लॉप होते चला गया. एक समय ऐसा था जब चाइनामैन बॉलर कुलदीप यादव को टीम इंडिया की सबसे मजबूत कड़ी माना जाता था, लेकिन सही मायने में उनके करियर की उल्टी गिनती महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद से ही शुरू हो गई थी.

धोनी के संन्यास के बाद तेवर ढीले पड़े

T20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए कुलदीप यादव को टीम इंडिया में शामिल नहीं किया गया. जब से महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा है, तब से कुलदीप यादव के तेवर ढीले पड़ गए. कुलदीप यादव की गेंदबाजी की चमक मंद पड़ गई. 

गेंदबाजी में धार नहीं रही

धोनी के रहते हुए कुलदीप यादव ने टीम इंडिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया है. कुलदीप यादव बॉलिंग के दौरान विकेट के पीछे से धोनी से सलाह मिलने पर बहुत खतरनाक हो जाते थे, लेकिन धोनी के अनुपस्थिति में उनकी गेंदबाजी में धार नहीं रही. कुलदीप यादव की जगह वरुण चक्रवर्ती को 2021 टी20 वर्ल्ड कप का टिकट मिला है. 

धोनी की सलाह आती थी काम 

एक इंटरव्यू में कुलदीप ने बताया था कि कैसे वह मैदान के भीतर और बाहर महेंद्र सिंह धोनी की सलाह को मिस करते हैं. कुलदीप ने बताया था कि विकेट के पीछे के धोनी की सलाह उनके बहुत काम आती थी और उन्हें उसकी कमी खलती है. कुलदीप ने आगे कहा था, ‘मुझे कभी उनकी सलाह की काफी कमी महसूस होती है. उनके पास काफी अनुभव था. वह विकेट के पीछे से हमें गाइड करते थे.’  

स्पोर्ट्स की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Sports Facebook Page को लाइक करें





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *