धोनी के जाते ही शुरू हो गई थी इन 2 के करियर की उल्टी गिनती, T20 वर्ल्ड कप से भी हुई छुट्टी


नई दिल्ली: एक समय ऐसा था जब चाइनामैन बॉलर कुलदीप यादव और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल की जोड़ी को टीम इंडिया की सबसे मजबूत कड़ी माना जाता था, लेकिन टी20 वर्ल्ड कप 2021 आते-आते दोनों ही भारतीय क्रिकेट टीम से बाहर हो गए. सही मायने में इन दोनों खिलाड़ियों के करियर की उल्टी गिनती महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के बाद से ही शुरू हो गई थी.

धोनी के संन्यास के बाद तेवर ढीले पड़े

T20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को टीम इंडिया में शामिल नहीं किया गया. जब से महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा है, तब से दोनों स्पिनरों के तेवर ढीले पड़ गए. दोनों की गेंदबाजी की चमक मंद पड़ गई. 

गेंदबाजी में धार नहीं रही

धोनी के रहते हुए युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने टीम इंडिया के लिए शानदार प्रदर्शन किया है. युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव बॉलिंग के दौरान विकेट के पीछे से धोनी से सलाह मिलने पर बहुत खतरनाक हो जाते थे, लेकिन धोनी के अनुपस्थिति में उनकी गेंदबाजी में धार नहीं रही. 

धोनी की सलाह आती थी काम 

एक इंटरव्यू में कुलदीप ने बताया था कि कैसे वह मैदान के भीतर और बाहर महेंद्र सिंह धोनी की सलाह को मिस करते हैं. कुलदीप ने बताया था कि विकेट के पीछे के धोनी की सलाह उनके बहुत काम आती थी और उन्हें उसकी कमी खलती है. कुलदीप ने आगे कहा था, ‘मुझे कभी उनकी सलाह की काफी कमी महसूस होती है. उनके पास काफी अनुभव था. वह विकेट के पीछे से हमें गाइड करते थे.’  

टी20 वर्ल्ड कप से हुई छुट्टी 

युजवेंद्र चहल टी20 इंटरनेशनल फॉर्मेट में भारत के सबसे सफल गेंदबाज हैं. इसके बावजूद उन्हें टी20 वर्ल्ड कप की टीम में मौका नहीं मिला. युजवेंद्र चहल की जगह राहुल चाहर को टी20 वर्ल्ड कप खेलने का मौका मिला है. कुलदीप यादव की जगह वरुण चक्रवर्ती को टी20 वर्ल्ड कप का टिकट मिला है. 





Source link

Leave a Comment