धवन को टी20 वर्ल्ड कप से बाहर करने पर भड़का ये दिग्गज, कहा- वो बड़े मैच के खिलाड़ी


मुंबई: टीम इंडिया के सबसे बड़े दिग्गज ओपनर शिखर धवन का सेलेक्टर्स ने टी20 वर्ल्ड कप से पत्ता काट दिया. शिखर धवन को सेलेक्ट नहीं करने के पीछे चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने जो वजह बताई है, वह हर किसी को हैरान कर रही है. चेतन शर्मा ने कहा कि ऐसा धवन को आराम देने के लिए किया गया है. 

धवन को बाहर करने पर भड़का ये दिग्गज

रोहित शर्मा की तरह ही टीम इंडिया के बेस्ट ओपनर माने जाने वाले शिखर धवन को टी20 वर्ल्ड कप से बाहर करने पर टीम इंडिया की सेलेक्शन कमिटी के पूर्व अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने नाराजगी जाहिर की है. एमएसके प्रसाद का मानना है कि आईसीसी टूर्नामेंट्स में धवन का रिकॉर्ड जबर्दस्त हैं और वह बड़े मैच के खिलाड़ी हैं. 

धवन की जगह ईशान किशन को शामिल किया गया

टी20 वर्ल्ड कप के लिए शिखर धवन की जगह युवा बल्लेबाज ईशान किशन को टीम में शामिल किया गया. बीसीसीआई के पूर्व मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा कि धवन जिस फॉर्म में थे, उसे देखते हुए लगा कि इस अनुभवी सलामी बल्लेबाज के पास टी20 वर्ल्ड कप में खेलने का एक मौका था. 

शिखर धवन बड़े मैच के खिलाड़ी

एमएसके ने कहा, ‘भारत एक संतुलित टीम है. शिखर जिस फॉर्म में थे, उसे देखते हुए, मुझे लगता है कि उनके पास एक अवसर था, लेकिन आप एक अलग पक्ष को देखे तो किशन को एक फ्लोटर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है और वह उस जगह के हकदार हैं, लेकिन कहीं न कहीं मुझे लगा कि शिखर को भी टीम में रखा जा सकता था, क्योंकि वह बड़े टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन करते हैं.’

धोनी को मेंटर चुनना मास्टरस्ट्रोक 

46 वर्षीय एमएसके ने 2016 से 2020 तक मुख्य राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में काम किया था. महेंद्र सिंह धोनी को टीम में मुख्य कोच रवि शास्त्री के साथ टीम के मेंटर के रूप में शामिल करने के निर्णय से भी एमएसके खुश हैं. एमएसके ने कहा कि पूर्व कप्तान धोनी टीम में सभी को जानते हैं. उन्होंने कहा, ‘धोनी को मेंटर के रूप में चुनना एक अद्भुत निर्णय है. उनके शामिल होने से टीम प्रबंधन को फायदा होगा, क्योंकि माही हर किसी के साथ अच्छा व्यवहार करते हैं.’

अश्विन को मौका देना सही फैसला

एमएसके भी रविचंद्रन अश्विन, राहुल चाहर, अक्षर पटेल, वरुण चक्रवर्ती और रवींद्र जडेजा को टी20 वर्ल्ड कप के लिए चुने गए स्पिनरों के पक्ष में हैं. उन्होंने विशेष रूप से बताया कि युजवेंद्र चहल के बजाय एक अनुभवी अश्विन और इन-फॉर्म चाहर को चुनना सही निर्णय था.

स्पिन विभाग मजबूत

एमएसके ने कहा, ‘अश्विन का अनुभव और वह भी एशियाई परिस्थितियों में खेलना निश्चित रूप से टीम के लिए फायदेमंद होगा. अश्विन पिछले कुछ आईपीएल से अच्छी फॉर्म में है. विशेष रूप से दुबई में पिछले आईपीएल के दौरान उन्होंने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया था. दुबई में आईपीएल के एक और चरण के साथ टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले निश्चित रूप से मदद मिलेगी, उनका अनुभव स्पिन विभाग को मजबूती देगा.

चहल के बारे में जानकर हुआ दुख 

एमएसके ने भारत के लिए 6 टेस्ट और 17 एकदिवसीय मैच खेले हैं. एमएसके ने चहल के बारे में कहा, ‘वह वास्तव में निराश होंगे, क्योंकि वह एक टी20 विशेषज्ञ रहे हैं, लेकिन अगर आप आईपीएल के पिछले चरण में चाहर के साथ उनके फॉर्म की तुलना करते हैं तो शायद चहल अधिक महंगे साबित हुए थे और चाहर ने मुंबई इंडियंस को लगातार दो आईपीएल जीताने में अहम भूमिका निभाई थी.





Source link

Leave a Comment