जो सचिन तेंदुलकर नहीं कर पाए कोहली के पास वो करने का मौका, सिर्फ इस कमाल की जरूरत


नई दिल्ली: विराट कोहली भारतीय क्रिकेट टीम की सबसे बड़ी ताकत हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में कोहली शून्य पर आउट हो गए थे, लेकिन वह वापसी में माहिर हैं. पिछले साल से कोहली के बल्ले से एक भी शतक नहीं निकला और वह रनों के भूखे हैं. ऐसे में कोहली इंग्लैंड के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकते हैं. कोहली आलोचकों का मुंह बंद करना चाहेंगे. उनके फैंस को शतक की उम्मीद होगी.

सचिन और गावस्कर भी नहीं कर पाए ये कमाल 

सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर कभी लॉर्ड्स में टेस्ट नहीं लगा पाए, लेकिन विराट कोहली इन दोनों दिग्गजों के इस क्लब में शामिल होने से बचना चाहेंगे और इस ऐतिहासिक मैदान पर तिहरे अंक में पहुंचकर शतक का लंबा इंतजार खत्म करने की कोशिश करेंगे.

15 पारियों से शतक लगाने में नाकाम रहे कोहली 

कोहली पिछले 9 टेस्ट मैचों की 15 पारियों में शतक लगाने में असफल रहे हैं. उनके नाम पर टेस्ट क्रिकेट में 27 शतक दर्ज हैं, लेकिन नवंबर 2019 के बाद से वह तिहरे अंक में पहुंचने के लिए तरस रहे हैं. इसके बाद उन्होंने जो 15 पारियां खेली हैं, उनमें 345 रन बनाए हैं और उनका औसत 23.00 है.

लॉर्ड्स के मैदान पर ऐसा रहा था सचिन का रिकॉर्ड 

भारत को गुरुवार से दूसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में लॉर्ड्स के उस मैदान पर इंग्लैंड का सामना करना है, जिसमें भारतीय दिग्गज रन बनाने के लिए जूझते रहे. गावस्कर ने इस मैदान पर 10 पारियों में 340 रन बनाए हैं, जिसमें दो अर्धशतक शामिल हैं जबकि तेंदुलकर ने यहां जो नौ टेस्ट पारियां खेली हैं, उनमें वह कभी 50 रन तक भी नहीं पहुंचे.

कोहली ने लॉर्ड्स में अब तक चार पारियां खेलीं

कोहली ऐसे किसी रिकॉर्ड से बचना चाहेंगे. भारतीय कप्तान ने लॉर्ड्स में अब तक चार पारियां खेली हैं, जिनमें उन्होंने 65 रन बनाए और उनका उच्चतम स्कोर 25 रन है. कोहली नॉटिंघम में पहले टेस्ट मैच की एकमात्र पारी में पहली गेंद पर आउट हो गए थे और लॉर्ड्स में वह भारत को तीसरी जीत दिलाने के लिए बड़ा स्कोर बनाने को बेताब होंगे.





Source link

Leave a Comment