क्रिकेटर बनकर इस भारतीय इंजीनियर ने मैदान पर मचाया कहर, फिर बन गया मैच रेफरी


नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज और वर्तमान में आईसीसी मैच रेफरी जवागल श्रीनाथ को भारत के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक माना जाता है. श्रीनाथ ने वनडे में 300 से अधिक विकेट लिए हैं. अपने करियर के दौरान सबसे तेज भारतीय गेंदबाज के तौर पर मशहूर रहे जवागल श्रीनाथ आज यानी 31 अगस्त को अपना 52वां जन्मदिन मना रहे हैं.

इंजीनियर से बने क्रिकेटर

श्रीनाथ ने 1991 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में डेब्यू किया और 2003 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही उन्होंने अपना अंतिम वनडे मैच खेला. उन्होंने जयचमराजेंद्र कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, मैसूर से इंस्ट्यूमेंटल टेक्नोलॉजी में इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की. 1999 में श्रीनाथ को अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया. मौजूदा समय में जवागल श्रीनाथ आईसीसी के सबसे प्रतिष्ठित मैच रेफरी माने जाते हैं. वैसे तो श्रीनाथ के नाम पर भारतीय क्रिकेट के कई तरह के रिकॉर्ड जुड़े हुए हैं, लेकिन उनके जन्मदिन के मौके पर हम आपको बताना चाहेंगे उन 5 खास रिकॉर्ड के बारे में, जो कभी तोड़े नहीं जा सके हैं.

पहले ही प्रथम श्रेणी मैच में ली थी हैट्रिक

जवागल श्रीनाथ के नाम पर अपने पहले ही रणजी ट्रॉफी मैच में हैट्रिक लगाकर प्रथम श्रेणी डेब्यू करने का रिकॉर्ड दर्ज है. दुनिया में 3 ही गेंदबाज ये कारनामा कर पाए हैं. वर्ष 1989 में हैदराबाद के खिलाफ कर्नाटक के लिए खेलते हुए श्रीनाथ ने ये करिश्मा किया था. वे ऐसा करने वाले इकलौते भारतीय गेंदबाज हैं.

भारतीय तेज गेंदबाज के सर्वाधिक वनडे विकेट

श्रीनाथ ने 229 वनडे मैच में 315 विकेट अपने करियर में लिए थे, जो आज भी किसी भी भारतीय तेज गेंदबाज के सीमित ओवर क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट का रिकॉर्ड है. वनडे में वे आज भी अनिल कुंबले (Anil Kumble) के बाद विकेट के लिहाज से दूसरे नंबर के भारतीय गेंदबाज हैं. कुंबले के नाम पर 269 मैच में 334 विकेट हैं. 67 टेस्ट मैच में 236 विकेट लेने वाले श्रीनाथ अपने रिटायरमेंट के समय कपिल देव (Kapil Dev) के बाद भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय विकेट लेने के मामले में दूसरे नंबर के तेज गेंदबाज थे. बाद में जहीर खान उन्हें पीछे छोड़ दिया.

वर्ल्ड कप में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट

श्रीनाथ ने अपने करियर में 4 आईसीसी वनडे विश्व कप खेले थे. वर्ष 1992, 1996, 1999 और 2003 में खेले इन विश्व कप में श्रीनाथ के नाम पर 44 विकेट दर्ज हैं, जो किसी भारतीय गेंदबाज के सर्वाधिक विकेट का रिकॉर्ड है. बाद में जहीर खान ने भी 44 विकेट पूरे कर उनके इस रिकॉर्ड की बराबरी की, लेकिन तोड़ नहीं पाए.

पाकिस्तान के खिलाफ बेस्ट तेज गेंदबाजी प्रदर्शन

श्रीनाथ ने पाकिस्तान के खिलाफ वर्ष 1999 के कोलकाता टेस्ट मैच में 132 रन देकर 13 विकेट लिए थे, जो भारत की तरफ से पाकिस्तान के खिलाफ ओवरऑल तीसरा बेस्ट गेंदबाजी प्रदर्शन है. श्रीनाथ से ज्यादा अच्छी गेंदबाजी लेग स्पिनर अनिल कुंबले और खब्बू स्पिनर वीनू मांकड के नाम पर दर्ज है. ऐसे में भारत की तरफ से बेस्ट तेज गेंदबाजी प्रदर्शन का रिकॉर्ड श्रीनाथ का है, जो तोड़ा नहीं जा सका है. पारी में बेस्ट प्रदर्शन के लिहाज से 8/86 वाले श्रीनाथ ठीक 8/85 वाले कपिल देव के बाद दूसरे नंबर पर आते हैं.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बेस्ट भारतीय तेज गेंदबाज

श्रीनाथ ने वर्ष 1996 के अहमदाबाद टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथी पारी में गेंदबाजी करते हुए 170 रन के लक्ष्य का पीछा कर रही मेहमान टीम को सिर्फ 105 रन पर आउट कर दिया था. श्रीनाथ ने 21 रन देकर 6 विकेट लिए थे, जो आज तक दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ किसी भी भारतीय तेज गेंदबाज का बेस्ट गेंदबाजी प्रदर्शन है.





Source link

Leave a Comment