इन 5 क्रिकेटर्स को करीब से छू कर निकल गई मौत, जान गंवाने से बच चुके हैं बाल-बाल


नई दिल्ली: वर्ल्ड क्रिकेट में ऐसे भी क्रिकेटर्स हैं, जिन्होंने मौत को बहुत करीब से देखा है. इन क्रिकेटर्स की किस्मत अगर साथ नहीं देती तो शायद आज ये जिंदा नहीं होते. भयानक हादसे में इन क्रिकेटर्स की जान बाल-बाल बची है. आइए एक नजर डालते हैं, उन क्रिकेटर्स पर:  

मोहम्मद  शमी

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी साल 2018 में देहरादून से नई दिल्ली आते हुए एक कार एक्सीडेंट का शिकार हो गए थे. उस हादसे में शमी की दाईं आंख के ऊपर सिर पर चोट आई थी, जिस पर कुछ टांके लगाए गए थे. उस दुर्घटना के वक्त शमी व उनकी पत्नी हसीन जहां के बीच विवाद चल रहा था. हालांकि शमी ने एक्सीडेंट से उबरते हुए मैदान पर शानदार वापसी की थी. 

ब्रूस फ्रंच

ब्रूस फ्रेंच ने इंग्लैंड के लिए अपने 3 साल के करियर में 16 टेस्ट और 13 वनडे खेले थे. ब्रूट को एक दुर्घटना नहीं बल्कि निरंतर दुर्घटनाओं का सामना करना पड़ा. 1987-88 में पाकिस्तान के दौरे पर अभ्यास करते समय भीड़ के एक दर्शक ने जब गेंद वापस करने के लिए फेंकी तो वह गेंद खिलाड़ी के सिर पर लग गई और उन्हें फौरन अस्पताल ले जाया गया. जहां पहुंचकर वह दरवाजे पर ही थे कि तभी उनकी कार का एक्सीडेंट हो गया. इसके बाद भी सब ठीक नहीं हुआ, जब ब्रूच हॉस्पिटल में थे तब डॉक्टर के कमरे में उनके सिर पर लाइट गिर पड़ी, क्योंकि वह कुर्सी से उठने की कोशिश कर रहे थे. इसके अलावा वेस्टइंडीज के इंग्लैंड के 1985-86 के दौरे पर टहलते हुए उन्हें एक कुत्ते ने भी काट लिया था. आपको बता दें, संन्यास लेने के बाद ब्रूस ने इंग्लैंड की टीम को कोचिंग की सेवा दी.

करुण नायर

टीम इंडिया के बल्लेबाज करुण नायर ने टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाने का कारनामा किया है. सहवाग के बाद नायर ने 2016 में चेन्नई में खेलते हुए अपना तिहरा शतक लगाया था. इसी साल करुण नायर एक दुर्घटना का शिकार हुए थे. जुलाई 2016 में वह केरल में छुट्टियां मना रहे थे. करुण अपने रिश्तेदारों के साथ पम्पा नदी पार एक नांव में अरनमुला मंदिर जा रहे थे, लेकिन नाव दुर्घटनाग्रस्त हो गई और करुण को कुछ दूरी तक तैरकर जाना पड़ा. हालांकि आसपास के गांव वालों ने उन्हें बचा लिया. उस दुर्घटना में करुण नायर ने अपने कई रिश्तेदारों को खोया था.

ओशाने थॉमस

वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज ओशाने थॉमस का फरवरी 2020 में जमैका में बड़ा एक्सीडेंट हुआ था. इस दुर्घटना में थॉमस की कार पूरी तरह से पलट गई थी और उन्हें आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया था. उस वक्त डॉक्टरों ने ओशाने थॉमस को घर पर ही आराम करने की सलाह दी थी, लेकिन थॉमस ने जल्दी रिकवरी की और क्रिकेट के मैदान पर वापसी की.

निकोलस पूरन

निकोलस पूरन को वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के भविष्य के रूप में देखा जाता है. जनवरी 2015 में निकोलस पूरन भीषण एक्सीडेंट का शिकार होने के बाद चल भी नहीं पा रहे थे. निकोलस पूरन को त्रिनिदाद में सड़क दुर्घटना में चोट लगी. फिर उन्हें जल्दी से अस्पताल में भर्ती कराया गया और उन्हें दो पैरों की सर्जरी से गुजरना पड़ा. निकोलस पूरन को महीनों तक व्हीलचेयर में रहना पड़ा.





Source link

Leave a Comment