इन 3 भारतीय क्रिकेटर्स का टेस्ट करियर मुश्किल में फंसा, इंग्लैंड दौरा हो सकता है आखिरी


नई दिल्ली: टीम इंडिया इस समय इंग्लैंड दौरे पर है और कुछ बड़े क्रिकेटर्स खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. टीम इंडिया में कई ऐसे युवा क्रिकेटर मौजूद हैं, जो शानदार प्रदर्शन कर इन दिग्गजों की टेस्ट टीम से छुट्टी कर सकते हैं. इंग्लैंड का ये दौरा भारतीय क्रिकेट टीम के लिए बेहद अहम है, ऐसे में इन 3 खिलाड़ियों का करियर दांव पर लगा है. 

चेतेश्वर पुजारा

पुजारा के इस प्रदर्शन के बाद उनके करियर की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. विरोधी टीम पर हावी होने के लिए डिफेंसिव होने की बजाय रन बनाने की जरूरत है, लेकिन पुजारा की बल्लेबाजी में कोई दम नजर नहीं आ रहा. टॉप ऑर्डर भारत की ताकत रहा है, जो टेस्ट मैचों में लगातार फ्लॉप हो रहा है. अब नंबर तीन पर पुजारा की जगह को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. चेतेश्वर पुजारा ने आखिरी बार शतक दो साल पहले 2018 में पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे पर ही लगाया था. 

पुजारा ने तब सिडनी में ही 193 रनों की पारी खेली थी. इस पारी के बाद से उनका एक भी शतक नहीं आया है, जो टीम इंडिया के लिए चिंता की बात है. भारतीय क्रिकेट टीम के पास सूर्यकुमार यादव जैसा टैलेंटेड बल्लेबाज है, जो मैदान के चारों तरफ एक से बढ़कर एक शॉट्स खेलने और रन बटोरने की कला जानता है. चेतेश्वर पुजारा अगर इस सीरीज में अच्छा नहीं कर पाए, तो सूर्यकुमार यादव की टेस्ट टीम में एंट्री पक्की है. 

ऋद्धिमान साहा

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए जब से महेन्द्र सिंह धोनी ने टेस्ट से संन्यास लिया है, उसके बाद से उनके बदले में ऋद्धिमान साहा विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी निभा रहे हैं. ऋद्धिमान साहा लगातार टेस्ट टीम के साथ जुड़े रहे हैं. वैसे उन्हें पिछली कुछ सीरीज में भारत की प्लेइंग इलेवन में मौका नहीं मिल पा रहा है, क्योंकि ऋषभ पंत उन पर भारी पड़ रहे हैं. ऋद्धिमान साहा को इस बार भी इंग्लैंड के दौरे पर टीम में जगह मिली है. वो टीम का हिस्सा हैं, अब तक भारत के लिए ऋद्धिमान साहा 38 टेस्ट मैच खेल चुके हैं. साहा फिलहाल 36 साल के हो चुके हैं, तो वहीं उनको अब प्रतिस्पर्धा भी मिलने लगी है. ऐसे में कहा जा सकता है कि ये इंग्लैंड दौरा उनका आखिरी दौरा हो सकता है.

उमेश यादव

भारतीय क्रिकेट को पिछले कुछ सालों में एक से एक शानदार तेज गेंदबाज हाथ लगे हैं. इन युवा तेज गेंदबाजों ने भारत के रफ्तार के सौदागर माने जाने वाले उमेश यादव के करियर पर काफी प्रभाव डाला है. उमेश यादव की धीरे-धीरे सीमित ओवर की टीम से तो पूरी तरह से छुट्टी हो गई, लेकिन वो अभी भारत की टेस्ट टीम का हिस्सा हैं. उमेश यादव को भारतीय टेस्ट टीम में खेलने का लगातार मौका दिया जा रहा है, लेकिन वो प्लेइंग इलेवन का हिस्सा लगातार नहीं बन पा रहे हैं. अब ऐसे में उमेश यादव भले ही इस बार इंग्लैंड के दौरे पर जगह बनाने में तो कामयाब रहे हैं, लेकिन 48 टेस्ट खेल चुके 33 वर्षीय उमेश यादव के लिए ये इंग्लैंड का दौरा अंतिम साबित हो सकता है.





Source link

Leave a Comment